पश्चिम चंपारण (सिकटा), जासं। बिजली विपत्र भुगतान नही करने को लेकर पूर्वी महम्मदवां गांव के ट्रासफार्मर से विद्युत आपू विभाग ने बंद कर दिया है। गांव पांच दिनों से अंधेरा में डूबा है। विद्युत विभाग के पर्यवेक्षक अवनीश कुमार ने बताया कि गांव में 90 परिवार है और सभी विद्युत उपभोक्ता है। वर्षों से यहां के उपभोक्ता बिजली बिल जमा नहीं किए हैं। 90 उपभोक्ताओं के यहां 80 लाख के आसपास राजस्व बकाया है।

गांव में सभी उपभोक्ताओं को समय से विपत्र निकालने के लिए कर्मी बराबर जाते है। लेकिन उपभोक्ता मीटर जांच नहीं करने देते। बिल जमा करने के लिए कई बार समझाने का प्रयास भी किया जा चुका है। बावजूद किसी ने भुगतान नहीं दिया। अंतत: विभाग ने पूरे गांव की बिजली काट दी है। उधर, विद्युत विभाग के नरकटियागंज सहायक अभियंता आलोक कुमार ने कहा कि जहां 80 फीसद से अधिक बिजली बकाया है। वहां का बिजली वि'छेद करने का प्रावधान है। पूर्वी महम्मदवां में एक भी उपभोक्ता बिल जमा नही किए है। वहां रीडर को मीटर रीङ्क्षडग तक नही करने देते है। फिर चोरी कर बिजली उपयोग करते पकड़े गए तो प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी।

विद्युत चोरी करने को लेकर प्राथमिकी दर्ज

मोहनपुर। प्रखंड क्षेत्र में विद्युत्त की चोरी करने वालों का विद्युत वि'छेद करते हुए प्राथमिकी दर्ज की गई है। उक्त आशय की जानकारी देते हुए बिजली विभाग के कनीय अभियंता बालमुकुंद ने बताया कि क्षेत्र में अनेक लोग विद्युत का बकाया जमा नहीं करते हैं और विद्युत काट देने पर टोका फंसा कर बिजली की चोरी करते है। संज्ञान में आए ऐसे लोगों के खिलाफ विद्युत अधिनियम की सुसंगत धारा लगाकर कारवाई की गई है। जिनके विरुद्ध बिजली चोरी की प्राथमिकी दर्ज कराई गई है उसमें मांझा के अशोक दास, अधलालपुर के रामनरेश राय और संदीप राय, डीह दशहरा के विन्देश्वर राय, रामचंद्रपुर दशहरा के अरुण कुमार राय शामिल है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh