मुजफ्फरपुर। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से पीजी सत्र 2021-23 में नामांकन के लिए पहली मेधा सूची गुरुवार को जारी कर दी गई। विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट (www.ढ्डह्मड्डढ्डह्व.द्गस्त्रह्व.द्बठ्ठ) पर मेधा सूची प्रकाशित कर दी गई है। साथ ही सभी पीजी विभागाध्यक्षों और कालेजों को ईमेल के माध्यम से भी मेधा सूची और नामांकन की पूरी प्रक्रिया की जानकारी दे दी गई है। 16 से 25 अगस्त तक कालेजों और पीजी विभागों में मेधा सूची के आधार पर नामांकन लिया जाएगा। यूएमआइएस कोआर्डिनेटर प्रो.टीके डे ने बताया कि मेधा सूची तैयार करने में पूरी सावधानी बरती गई है। जिन विद्यार्थियों ने अंक बढ़ाकर दे दिया था। उनकी ओर से अपलोड अंकपत्र के आधार पर मेधा सूची जारी की गई है। पहली सूची में करीब 54 सौ छात्र-छात्राओं का नाम शामिल किया गया है। कालेज और पीजी विभागों को कहा गया है कि प्रतिदिन नामांकन लेने के बाद संध्या में उसकी रिपोर्ट विश्वविद्यालय को उपलब्ध कराएं। इससे अंतिम दिन तक नामांकित विद्यार्थियों की संख्या का आकलन कर शीघ्र ही दूसरी सूची भी जारी की जाएगी। पीजी विभाग और कालेजों में भी कटआफ रहा हाई विश्वविद्यालय के पीजी विभागों और कालेजों में भी दर्जनभर विषयों में सामान्य कोटि के विद्यार्थियों का कटआफ अधिक रहा। सबसे अधिक कटआफ कामर्स का रहा। विश्वविद्यालय कामर्स विभाग में सामान्य कोटि का कटआफ 72 पहुंच गया। इसका मतलब, 72 प्रतिशत या इससे अधिक अंक वाले विद्यार्थियों का ही नामांकन इस कोटि में लिया जा सकेगा। बता दें कि पीजी में नामांकन के लिए करीब 68सौ सीटें निर्धारित हैं। इनके लिए 12 हजार से अधिक विद्यार्थियों ने आवेदन किया था। सबसे अधिक 2072 विद्यार्थियों ने इतिहास और 1605 अभ्यर्थियों ने कामर्स में आवेदन किया था। इसमें 12 विषयों में सीट से कम आवेदन प्राप्त हुए हैं। कोटि का प्रमाणपत्र करना होगा प्रस्तुत नामांकन के दौरान पीजी विभाग और कालेजों में सभी प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा। खासकर कोटि या किसी विशेष कोटा का विकल्प आवेदन में दिया गया होगा। उन विद्यार्थियों को संबंधित कोटि या कोटा का प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा। यदि वे प्रमाणपत्र प्रस्तुत नहीं कर पाते हैं। ऐसी स्थिति में संबंधित छात्र का नामांकन रद कर दिया जाएगा।

आवंटित कालेज या विभाग में लेना होगा नामांकन : छात्र-छात्राओं की ओर से आवेदन के समय प्रथम, द्वितीय या तृतीय विकल्प के रूप में दिए गए संस्थान में से यदि कोई एक संस्थान में उनका नाम आ गया है। ऐसी स्थिति में उस छात्र को आवंटित कालेज में नामांकन लेना होगा। नामांकन नहीं लेने की स्थिति में उस सीट को रिक्त मानकर दूसरी सूची उसी आधार पर तैयार की जाएगी। वहीं पहली सूची के बाद संबंधित छात्र नामांकन के लिए दावा नहीं कर सकेंगे। विश्वविद्यालय पीजी विभाग विषय, कटआफ

भौतिकी, 69.50

गणित, 70.25

जूलाजी, 70.50

इतिहास, 60

मनोविज्ञान, 64.75

भूगोल, 65.62

रसायनशास्त्र, 63.75

अंग्रेजी, 61.38

हिदी, 60.38

कामर्स, 72 एलएस कालेज गणित, 69.75

भौतिकी, 68.38

जूलाजी, 69.75

मनोविज्ञान, 64.75

इतिहास, 60

रसायनशास्त्र, 61.12 आरडीएस कालेज

गणित, 67.25 भौतिकी, 66 जूलाजी, 68.62 मनोविज्ञान, 65.50 इतिहास, 59.25

रसायनशास्त्र, 61.88

एमडीडीएम कालेज गणित, 59.12

भौतिकी, 66.75 जूलाजी, 68.88

मनोविज्ञान, 65.25 इतिहास, 58.38

रसायनशास्त्र, 58.38

Edited By: Jagran