मुजफ्फरपुर : पारू थाना क्षेत्र के पंदे गाव में रविवार की सुबह आठ बजे कोचिंग की दो छात्राओं के बीच मोबाइल नंबर लेनदेन विवाद को लेकर हो रही पंचायती में एक युवक ने देसी पिस्तौल से फायरिंग कर दी जिससे उसके चचेरे भाई का आठ वर्षीय पुत्र आदित्य उर्फ गौतम को जख्मी हो गया। इसके साथ ही वहां अफरातफरी मच गई और पंचायत में पहुंचे पंच इधर-उधर भागने लगे। घायल बच्चे को स्वजनों ने शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष राजेंद्र साह घटनास्थल पहुंचे और मामले की छानबीन शुरू कर दी। थानाध्यक्ष ने बताया कि पंचायती के दौरान हुई फायरिंग में बच्चे के जख्मी होने की सूचना मिली है। आरोपित की गिरफ्तारी को छापेमारी की जा रही है। सरपंच किरण देवी के ससुर मुरली प्रसाद सिंह ने बताया कि पंदे गाव निवासी मनोज पाडेय की पुत्री एवं लालू पंडित की पौत्री के बीच कोचिंग जाने के दौरान आठ दिन पूर्व मोबाइल नंबर लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था। इसे लेकर दोनों पक्षों के बीच पंचायत बुलाई गई थी। लोगों ने बताया कि पंचायत शुरू होने पर एक पक्ष के लालू पंडित के भतीजा नरेश पंडित से मनोज पाडेय के बीच कहासुनी होने लगी। तब मनोज पाडेय घर चला गया और देसी पिस्तौल लेकर आया और नरेश पंडित पर गोली चला दी। लेकिन, गोली नरेश पंडित को न लगकर मनोज के चचेरे भाई रणजीत पाडेय के आठ वर्षीय पुत्र आदित्य पाडेय उर्फ गौतम की नाभि के नीचे जा लगी। घटना की खबर मिलते ही राजद नेता तुलसी राय घटनास्थल पर पहुंचे और जख्मी बच्चे के स्वजनों से मुलाकात कर घटना की विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने बच्चे के इलाज के लिए उसके स्वजन आíथक सहायता दी।

Edited By: Jagran