मुजफ्फरपुर, जेएनएन। करजा थाना क्षेत्र के गोपालपुर में शुक्रवार की दोपहर जबरन जहरीले पदार्थ खिला देने से अधेड़ की मौत हो गई। उसकी पहचान गोपालपुर के विंदेश्वर महतो (55) के रूप में हुई है। मौत के बाद आसपास के लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पर करजा थाने की पुलिस लोगों को समझाकर शांत कराया। लोगों का आरोप था कि गांव में धड़ल्ले से देसी शराब की बिक्री की जाती है। प्रशासन केवल छापेमारी कर अपना पल्ला झाड़ लेता है।
 सूचना पर मुखिया गगनदेव कुमार, सरपंच रघुनाथ साह, उपमुखिया शिवपूजन सहनी, वार्ड सदस्य संजीत कुमार आदि पहुंचे। सभी लोगों ने समझाकर उग्र लोगों को शांत कराया। इधर, मृतक की बहू रूबी देवी, पुत्र शत्रुघ्न कुमार व चचेरे भाई कन्हाई महतो का कहना था कि विंदेश्वर सुबह बिल्कुल ठीक थे। गेहूं की दौनी कर घर लौटे। घर पर आने के बाद पान मसाला लेने के लिए निकले। इसी क्रम में हरेंद्र साह और श्याम साह उन्हें साथ लेकर अपने घर चले गए।
 वहां पड़ोसी अनिल साह एवं अन्य लोगों के साथ जबरन जहरीला पदार्थ खिला दिया। इसके बाद वह लड़खड़ाते हुए घर पहुंचे और मौत हो गई। प्राथमिकी में पुत्र शत्रुघ्न ने पुरानी रंजिश के कारण इन सभी लोगों पर साजिश के तहत जहरीला पदार्थ खिलाकर मार देने का आरोप लगाया है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। थानाध्यक्ष उदय कुमार सिंह ने बताया कि परिजन के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। 
घटना के संबंध में एसडीपीओ सरैया डॉ. शंकर झा ने कहा कि जांच में पता चला कि दोनों के बीच विवाद चल रहा है। इसको लेकर कोर्ट में मुकदमा भी दायर है। परिजन के आवेदन पर केस दर्ज कर लिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पूरी स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस