मुजफ्फरपुर। जिला महिला जदयू के संगठन का विस्तार किया गया है। 15 उपाध्यक्ष, 10 महासचिव, 18 सचिव व एक कोषाध्यक्ष के साथ 16 प्रखंड अध्यक्षों को मनोनीत किया गया है। सबको अंगवस्त्र बुके देकर सम्मानित किया गया। जिला व प्रखंड अध्यक्ष के बाद एक सौ महिलाओं को पार्टी की सदस्यता दिलाई गई। सबको अंगवस्त्रम् को बुके देकर सम्मानित किया गया। प्रदेश अध्यक्ष श्वेता विश्वास और प्रदेश सचिव रुचि अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महिलाओं को सम्मान दिया है। बेटियां साइकिल से स्कूल जा रही हैं, यह सब उनकी देन है। महिलाओं को पंचायात व निकाय चुनाव में आरक्षण मिला और कई योजनाएं चल रही हैं। पार्टी नेताओं ने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वह अपने आसपास के लोगों के बीच संगठन का विस्तार करें व महिलाओं के लिए चलने वाली योजना की जानकारी दें। जिलाध्यक्ष सीमा जायसवाल ने कहा कि संगठन में एक सौ नए सदस्य बने हैं। पिछले दिनों पारू में 90 महिलाओं को जोड़ा गया था। सदस्यता अभियान का सिलसिला लगातार जारी है। मौके पर जदयू जिलाध्यक्ष मनोज कुमार, पूर्व जिलाध्यक्ष रंजीत सहनी,राशि खत्री, अंबरीश सिन्हा, जानकी श्रीवास्तव, रक्षित जायसवाल, सुधा सिंह, युवा जदयू अध्यक्ष भारतेंदु सिंह, छात्र जदयू के अजय यादव, रजनीश सिंह, प्रेम कुमार सोनी, प्रभात सिन्हा, रत्नेश कुमार चौधरी आदि शामिल रहे। मुख्यमंत्री के जनता दरबार में रखेंगे मांग जिला शाखा मुजफ्फरपुर के समूह घ की पैनल सूची मे शामिल अभ्यíथयों (अनुसेवी) की बैठक तुर्की मेला गाछी में शत्रुघन व्यास की अध्यक्षता में हुई। उन्होंने बिहार सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि समूह घ में शामिल अभ्यर्थियों के साथ ठगी की जा रही है। पैनल में शामिल जिले के दर्जनों अभ्यर्थी मुख्यमंत्री के जनता दरबार में पहुंचकर स्थायी नियुक्ति की माग रखने का निर्णय लिया गया है। पाच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल सोमवार को जनता दरबार मे अपनी मागों का ज्ञापन सौपेंगा। सरकार अविलंब स्थायी नियुक्ति नहीं करती है तो अभ्यर्थी आमरण अनशन व सड़क जाम कर उग्र प्रदर्शन को बाध्य होंगे। संचालन देवेंद्र बैठा ने किया। मौके पर सामिल फुलदेव राम, विरेंद्र कुमार दास, अवधेश कुमार दास, अनिल कुमार, कमलेश्वर राम, सुरेंद्र पासवान , कन्हैया कुमार, देवकात देवा, नरेश पासवान, अरूण, रंजीत अनिल, राजदेव आदि अभ्यर्थी थे।

Edited By: Jagran