मुजफ्फरपुर, जासं। जदयू नेता विधान पार्षद दिनेश प्रसाद सिंह की बेटी कोमल सिंह को मोबाइल पर काल कर अपशब्द बोलने व जान से मार देने की धमकी मामले में सदर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है। सदर थानाध्यक्ष सत्येंद्र मिश्रा ने इसकी पुष्टि की। कहा कि मामले की गंभीरता को देख केस दर्ज किया गया है। मोबाइल नंबर का डिटेल्स निकाला जा रहा है। जिस नंबर से धमकी मिली है। उसका अंतिम लोकेशन झारखंड बताया गया है। फिर नंबर बंद हो गई।

पुलिस का दावा, जल्द होगी कार्रवाई

इसी बीच सोमवार को उसका लोकेशन पश्चिम बंगाल बताया। नगर डीएसपी राघव दयाल ने बताया कि जांच चल रही। जल्द ही आरोपित को गिरफ्तार कर लिया जायगा। बता दें कि तीन दिन पूर्व धमकी मिलने के बाद कोमल सिंह ने वरीय पुलिस अधीक्षक जयंत कांत से इसकी शिकायत की थी। इसके साथ ही इसकी प्रतिलिपि डीएम व सदर थानाध्यक्ष को भी दी थी। सदर पुलिस आवेदन के आधार पर जांच शुरू कर दी थी। मालूम हो कि कोमल सिंह भारत उर्जा डिस्टीलेरिज प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की डायरेक्टर है। एक अक्टूबर की दोपहर 12.38 बजे उनके मोबाइल पर 8536817802 से काल आया था। काल करने वाले व्यक्ति ने अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए उन्हें धमकी दी थी। कोमल सिंह पिछले विधानसभा चुनाव में गायघाट से चुनाव लड़ी थी, लेकिन हार गई थी। गौरतलब है कि विधान पार्षद चुनाव के दौरान कोमल के पिता दिनेश प्रसाद सिंह से भी एक करोड़ की रंगदारी मांगी गई थी। इसके बाद अब उनके बेटी को काल कर धमकी दी गई है।

शराब धंधेबाज ने मांगी एक लाख की रंगदारी, कमरे पर ताला जड़ा

मुजफ्फरपुर।  सदर थाना क्षेत्र के दिघरा के शंभू कुमार से एक लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई है। राशि नहीं देने पर उनके कमरे पर ताला जड़ दिया गया है। मामले में उन्होंने पुलिस से शिकायत की है। इसमें कहा कि आरोपित शराब धंधेबाज है। उसके द्वारा उन्हें कहा जाता है कि पुलिस को सूचना देकर धंधे में रोड़ा बनता है। इससे एक लाख रुपये का नुकसान हुआ है। इसको लेकर आरोपित शराब धंधेबाज कई साथियों के साथ उनके घर पहुंचा और गाली देते हुए कमरे में ताला लगा दिया। घर की महिलाओं पर भी अभद्र भाषा का प्रयोग किया। साथ ही एक लाख रुपये नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी। पुलिस का कहना है कि शिकायत की जांच कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट