मुजफ्फरपुर, ऑनलाइन डेस्क। बिहार बोर्ड की ओर से इंटरमीडिएट की परीक्षा का परिणाम जारी करने के बाद कुछ परीक्षार्थी मिले अंक से खुश नहीं हैं। उन्हें अपेक्षा के अनुसार अंक नहीं मिलने की शिकायत है। ऐसे ही परीक्षार्थी के लिए बिहार बोर्ड ने एक महत्वपूर्ण घोषणा की है। इसके अनुसार इस तरह के बच्चे स्क्रूटनी के लिए आवेदन दे सकते हैं। यह प्रक्र‍िया आज से शुरू हो गई है। इस आशय की जानकारी बोर्ड के मुजफ्फरपुर क्षेत्रीय कार्यालय व जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय की ओर से जिले के सभी विद्यालय को दी गई थी। परीक्षार्थी सात अप्रैल तक http://biharboardonline.bihar.gov.in/ पर अपना ऑनलाइन आवेदन दे सकते हैं। यह आवेदन किसी एक विषय या परीक्षार्थी की इच्छा के अनुसार किया जा सकता है। इसके लिए प्रति विषय 70 रुपये आॅनलाइन ही भुगतान करने होंगे। आवेदन की अवधि पूरी होने के बाद आवेदित विषयों की कॉपियों की स्क्रूटनी कराई जाएगी। इसमें दरअसल अंक जोड़ने में कहीं यदि चूक हो जाती है तो उसको दुरुस्त करते हुए उसके अनुसार परीक्षा परिणाम को सुधार दिया जाता है। इस बार की परीक्षा में 76 फीसद के करीब परीक्षार्थी ही सफल हो सके हैं। अब देखने वाली बात यह होगी कि स्क्रूटनी के लिए कितने परीक्षार्थी आवेदन करते हैं। हालांकि परीक्षाफल प्रकाशन के दिन ही बोर्ड अध्यक्ष की अोर से यह दावा किया गया कि कंप्यूटराइज्ड सिस्टम का उपयोग होने के कारण किसी भी तरह की अनियमितता की आशंका नहीं है। 

 यह भी पढ़ें: Darbhanga News: आलिंगन का ख्वाब लिए प्रेमिका के पास पहुंचे युवक को मिले लाठी-डंडे, मौत ने लगाया गले

कंपार्टमेंटल की भी घोषणा 

एक और महत्वपूर्ण घोषणा है। बोर्ड ने इस परीक्षा में किसी भी कारणवश एक या उससे अधिक विषय में सफल नहीं हो सके परीक्षार्थी के लिए कंपार्टमेंटल की घोषणा भी कर दी है। इस आशय की सूचना भी सभी स्कूल व कॉलेजों को दे दी गई है। इसके लिए पांच से 10 अप्रैल के बीच परीक्षा फार्म भरा जा सकता है। बोर्ड की आेर से 29 अप्रैल से 10 मई के बीच परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। परीक्षा का परिणाम मई माह में ही जारी कर दिया जाएगा। जिससे वे आगे अपनी पढ़ाई को बिना किसी भी परेशानी के जारी रख सकें। गौरतलब है कि 26 मार्च को बोर्ड की ओर से तीनों संकाय के परिणाम जारी कर दिए गए थे। कला संकाय में 77.97, विज्ञान संकाय में 76 और वाणिज्य संकाय के 91.48 फीसद परीक्षार्थी सफल रहे थे। इस बार कुल 13 लाख 50 हजार 233 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। 

 यह भी पढ़ें : सुनो..सुनो..सुनो! मुजफ्फरपुरवासियों.. सुनो! कलेजे को और सख्त कर लीजिए, बरसात में फिर डूबेगा शहर  

 

Edited By: Ajit Kumar