मुजफ्फरपुर [जेएनएन]। लापरवाही पकड़ में आ गई, अन्‍यथा न जाने कितने मासूमों की मौत तय थी। हम बात कर रहे हैं मुजफ्फरपुर के सकरा प्रखंड की दुबहा बुजुर्ग पंचायत के रायपुर मध्य विद्यालय के मध्याह्न भोजन में जहर की पोटली मिलने की। इसकी जानकारी मिलने पर लोग हंगामा पर उतर आए।

चने में मिला सल्‍फास

बताया जाता है कि शुक्रवार को मध्य विद्यालय रायपुर में भोजन में चावल और चना की सब्जी बनी थी। चावल बन गया । इस बीच रसोइया रिंकू झा ने प्रभारी एचएम प्रमिला देवी को सूचना दी कि चना उबालने के बाद पतीली में कपड़े से बंधी सल्फास की एक पोटली मिली है। प्रमिला देवी ने जहर की पोटली के साथ चने को स्कूल के पीछे जमीन के अंदर गड़वा दिया तथा दूसरी सब्जी बनाने को कहा।

टल गई बड़ी दुर्घटना

बाद में रसोइया ने सोयाबीन-आलू की सब्जी बनाई। लेकिन, तबतक इसकी सूचना ग्रामीणों को मिल गई और वे स्कूल में आकर हंगामा करने लगे। ग्रामीणों का कहना था कि पूर्व में भी इस तरह की घटना हो चुकी है। इस बार अगर जहर की पोटली नहीं मिलती तो स्‍कूल में मध्‍याह्न भोजन करने वाले सैकड़ों बच्‍चों की जान जा सकती थी।

घटना की होगी जांच, बैठक आज

उपप्रमुख ने बताया कि इस मामले को लेकर शनिवार को बैठक होगी, जिसमें ग्रामीण, शिक्षक एवं जनप्रतिनिधि शामिल होंगे।  इधर, एमडीएम प्रभारी संतोष कुमार ने बताया कि घटना दुखद है। जरूरी है खाना बनाते समय रसोइया सावधानी बरतें। घटना की जांच का आदेश दे दिया गया है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस