मुजफ्फरपुर, जासं। Bharat Bandh Today:संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर आज होने वाले भारत बंद का प्रभाव मुजफ्फरपुर में दिखने लगा है। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित हो रही पीजी प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा रद कर दी गई। विभिन्न राजनीतिक संगठनों की ओर से भारत बंद के आह्वान को देखते हुए विवि की ओर से पत्र जारी कर यह सूचना दी गई है। परीक्षा नियंत्रक डा.संजय कुमार ने बताया कि 27 सितंबर को एइसीसी-1 की परीक्षा थी। वैशाली, सीतामढ़ी, पूर्वी और पश्चिम चंपारण और मुजफ्फरपुर के विभिन्न क्षेत्रों से परीक्षार्थियों इसमें शामिल हो रहे हैं। सभी का केंद्र विवि में ही है। ऐसे में परीक्षा केंद्र तक पहुंचने में छात्र-छात्राओं को परेशानी हो सकती है। इसको देखते हुए परीक्षा को अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया है। 

आटो संघ ने किया बंद का समर्थन

मुजफ्फरपुर आटो रिक्शा कर्मचारी संघ ने आज होने वाले देशव्यापी बंद का समर्थन किया है। बैरिया स्थित संघ कार्यालय पर आयोजित बैठक में संघ के अध्यक्ष एआर अन्नू एवं महासचिव मो. इलियास इलू ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार को देश की जनता के हित में जो भी मांग है उसे मानना चाहिए। मौके पर पप्पू झा, चंद्रभूषण झा, संजय राय, संजय साह, कृष्णमुरारी आदि मौजूद रहे।

बंद को लेकर आल इंडिया किसान संघर्ष समन्वय समिति ने जगह-जगह नुक्कड़ सभा की। दूसरी ओर भाकपा माले की ओर से नगर सचिव सूरज कुमार ङ्क्षसह के नेतृत्व में मशाल जुलूस निकालकर विरोध जताया। इस संयुक्त मोर्चा ने शहर के बैरिया, जीरो माइल, ब्रह्मपुरा, भगवानपुर, गोबरसही, इमलीचट्टी, पक्कीसराय आदि में नुक्कड़ सभा की। इस दौरान वक्ताओं ने बंद को सफल बनाने के लिए लोगों से सहयोग मांगा। अभियान में चंद्रमोहन प्रसाद, अरङ्क्षवद कुमार, एआइडीएसओ के विजय कुमार, शिव कुमार, काशीनाथ सहनी एवं अविनाश कुमार साईं ने अपनी बातें रखीं। आल इंडिया स्टूडेंट््स एसोसिएशन(आइसा) ने बंदी को लेकर शनिवार को हरिसभा स्थित कार्यालय में बैठक की।

भारत बंद को लेकर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम

मोतिहारी। तीन कृषि कानून की वापसी, बिजली बिल, महंगाई व बेरोजगारी आदि मुद्दे को लेकर अखिल भारतीय किसान समन्वय संघ द्वारा सोमवार को आहूत भारत बंद को लेकर जिले में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। सभी संवेदनशील जगहों और चौक चौराहों पर काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किए गए हैं। प्रभारी जिलाधिकारी सह डीडीसी कमलेश कुमार सिंह ने बताया कि महागठबंधन के विभिन्न घटक दलों और विशेष तौर पर भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) की एक केंद्रीय कमेटी द्वारा बंद को समर्थन दिए जाने के कारण विशेष तौर पर सुरक्षा एहतियात बरती जा रही है। उन्होंने सभी एसडीओ और डीएसपी को संवेदनशील स्थलों पर प्रर्याप्त संख्या में पुलिस बल और दंडाधिकारी तैनात करने के निर्देश दिए गए हैं। ताकि, विधि व्यवस्था और शांति कायम रह सके।

 

Edited By: Ajit Kumar