पश्चिम चंपारण (वाल्मीकिनगर), जासं। वीटीआर के शीतकालीन सत्र का आगाज कर दिया गया। सीएफ ने सैलानियों की जिप्सियों को हरी झंडी दिखाकर जंगल सफारी के लिए रवाना किया। सत्र के पहले दिन ही 100 पर्यटकों ने जंगल सफारी का आनंद लिया। शनिवार को भी प्राइवेट व सरकारी होटल फुल थे। कोविड-19 के बीच वन शासन द्वारा जारी गाइड लाइन का ध्यान रखते हुए वीटीआर के शीतकालीन सत्र का शुभारंभ कर दिया गया। इस बाबत सीएफ हेमकांत राय ने बताया कि इस बार माहौल अनुकूल रहने के कारण पर्यटकों की संख्या बढऩे की संभावना के कारण जंगल सफारी के अलावा अन्य वाहनों को पहले से ही अनुबंधित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

पर्यटकों को लुभाने के लिए इस बार वीटीआर को पहले से अधिक आकर्षक रूप दिया गया है। टाइगर रिजर्व के लगातार दो पर्यटन सत्र कोरोना से प्रभावित रहे। दोनों बार निर्धारित समय से पहले कोरोना संक्रमण के कारण पर्यटन सत्र को बीच में ही बंद कर देना पड़ा सत्र के पहले ही दिन बाघ को देखकर सैलानी खुशी से झूम उठे। सैलानियों को जंगल सफारी कराने के बाद जिप्सियों को सेनिटाइज किया जा रहा है। हुनरमंद गाइडों द्वारा दुर्लभ वन्यजीवों के दीदार कराए जा रहे है।

चितवन राष्ट्रीय निकुंज में पर्यटकों के लिए छूट के साथ पैकेज की घोषणा

नेपाल के पर्यटकीय नगरी चितवन के सौराहा में चितवन राष्ट्रीय निकुंज आने वाले सैलानियों के लिए होटल व्यवसायियों ने विशेष छूट के साथ कई तरह की पैकेज देने का घोषणा की है। होटल संघ सौराहा के महासचिव गुणराज थपालिया ने बताया की सौराहा में आंतरिक तथा विदेशी पर्यटकों के आगमन दर बढ़ाने तथा पर्यटक को आकर्षित करने के उद्देश्य से कमरों की बुङ्क्षकग सस्ते रेट पर की जा रही है। इतना ही नहीं फेस्टिवल के अवसर पर सभी पर्यटकों को विभिन्न तरह के पैकेज कमरों के बुक‍िंंग के साथ छूट दी जा रही है।

चितवन राष्ट्रीय निकुंज सौराहा के होटल जंगल क्राउन के प्रमुख संतोष गिरी तथा रेन फॉरेस्ट के संचालक ज्ञानेन्द्र कुमार बिष्ट ने बताया की फेस्टिवल सीजन को देखते हुए विशेष छूट दी जा रही है। वहीं बर्थडे,एनवर्सरी के लिए आने वाले सैलानियों को कमरे के किराया में छूट के साथ ही उन्हें नि:शुल्क केक,ब्रेक फास्ट,लंच डिनर, जंगल सफारी या हाथी सफारी मुफ्त कराई जाएगी। पर्यटकों को थारू संस्कृति से जुड़ी कल्चरल प्रोग्राम व थारू समुदाय की म्यूजियम भी दिखाया जाएगा। इस सुविधा का लाभ पर्यटक दशहरा से लेकर छठ पर्व तक उठा सकते हैं।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh