Move to Jagran APP

बिहार के पूर्व मंत्री वृषिण पटेल की बढ़ी मुश्किलें! यौन शोषण मामले में कोर्ट ने जारी किया जमानती वारंट

Muzaffarpur News किशोरी के साथ दुष्कर्म और यौन शोषण के मामले में पूर्व मंत्री वृषिण पटेल की टेंशन बढ़ने वाली है। अदालत ने उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी किया है। बता दें कि मुजफ्फरपुर की एक किशोरी ने वृषिण पटेल पर दुष्कर्म और यौन शोषण के गंभीर आरोप लगाए थे। इस संबंध में किशोरी ने अदालत में परिवाद दायर किया था।

By Arun Kumar Jha Edited By: Mohit Tripathi Wed, 10 Jul 2024 04:30 PM (IST)
किशोरी से दुष्कर्म व यौन शोषण के मामले में पूर्व मंत्री वृषिण पटेल के विरुद्ध वारंट जारी।

जागरण संवाददाता, मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरपुर जिले की एक किशोरी से दुष्कर्म और यौन शोषण करने के आरोपित राज्य के पूर्व मंत्री वृषिण पटेल के विरुद्ध विशेष पाक्सो कोर्ट संख्या-दो ने जमानती वारंट जारी किया है।

किशोरी ने नौकरी और विधायक का टिकट दिलाने का झांसा देकर यौन शोषण करने का परिवाद पिछले साल 24 नवंबर को विशेष पाक्सो कोर्ट संख्या-तीन में दाखिल किया था। उस समय पीड़िता ने अपनी उम्र 19 वर्ष बताई थी।

यह घटना दो साल पहले की है। इसे लेकर उसने उम्र प्रमाणपत्र विशेष कोर्ट में दाखिल किया था। इसके बाद परिवाद को सुनवाई के लिए विशेष पाक्सो कोर्ट संख्या-दो में स्थानांतरित कर दिया गया था।

विशेष पाक्सो कोर्ट संख्या-दो ने परिवाद की सुनवाई के बाद प्रथम दृष्टया मामले को सत्य पाते हुए संज्ञान लिया था। विशेष कोर्ट ने पूर्व मंत्री को उपस्थित होने का आदेश दिया था। कोर्ट में उपस्थित नहीं होने पर उनके विरुद्ध जमानती वारंट जारी किया गया।

विशेष लोक अभियोजक पाक्सो अजय कुमार ने बताया कि पूर्व मंत्री के विरुद्ध विशेष कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया है। इस मामले की अगली सुनवाई 31 अगस्त को होगी।

परिवाद में ये लगाए आरोप

किशोरी ने परिवाद में कहा कि वर्ष 2021 में पूर्व मंत्री वृषिण पटेल उसके घर पर चुनाव प्रचार में आए थे। वह और गांव की अन्य लड़कियों ने कहा कि गांव में आकर चुनावी वादा करते हैं, मगर कोई रोजगार नहीं देते हैं।

इस पर पूर्व मंत्री ने अपना नाम, पता व मोबाइल नंबर एक कागज पर लिख कर दिया। उसने भी एक कागज पर अपना नाम व मोबाइल नंबर पूर्व मंत्री को दिया।

उसी रात करीब 11 बजे पूर्व मंत्री का उसके मोबाइल पर कॉल आया। उसे पटना आकर मिलने को कहा गया। उसने बताया कि वह पटना कभी नहीं गई है। वहां की कोई जानकारी नहीं है। इस पर उसे पटना के बोरिंग रोड में आकर कॉल करने को कहा गया।

वह बोरिंग रोड पहुंचकर कॉल की तो पूर्व मंत्री ने कहा कि गाड़ी लगी है। उसमें बैठकर आ जाओ। वह गाड़ी में बैठ गई। गाड़ी किसी अपार्टमेंट के निकट रुकी। वहां मौजूद एक व्यक्ति उसे अपार्टमेंट के एक फ्लैट में ले गया। वहां पहले से कई लड़कियां व वृषिण पटेल मौजूद थे।

वृषिण ने अपने पास बुलाकर बैठाया और कहा कि क्यों नौकरी के चक्कर में पड़ी हो। उसके जैसे टैलेंटेड लोगों को राजद से विधायक का टिकट दिलवा दूंगा।

पीड़िता ने मंत्री से कहा कि वह किसान की बेटी है, छोटी-मोटी नौकरी दिलवा दीजिए। इस पर वृषिण पटेल ने हंसते हुए कहा कि यहां रहो और इसके लिए उसे कई लोगों से मिलना होगा। घर पर फोन कर बता दो कि सहेली के घर पर रुकी हो। झांसे में आकर वह उसी फ्लैट में रुक गई।

पीड़िता ने आरोप लगाया कि रात में वृषिण पटेल उस फ्लैट में आए और उसके साथ अश्लील हरकत करने लगे। विरोध किया तो कहा कि हर काम की कीमत अदा करनी होती है। इसके बाद पूर्व मंत्री ने उसके साथ दुष्कर्म किया। वह रोई व चिल्लाई, लेकिन उन पर कोई असर नहीं पड़ा।

इसके बाद लगातार उसका यौन शोषण किया। इसका वीडियो तैयार कर लिया। उसने विरोध किया तो उसे वीडियो क्लिप इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित करने की धमकी देकर ब्लैक मेल किया जाता था।

पूर्व मंत्री के पास कई अन्य लड़िकयों का भी अश्लील वीडियो

किशोरी ने दावा किया है कि पूर्व मंत्री के मोबाइल में अन्य कई लड़िकयों का भी इस तरह का वीडियो है। बाद में उसने इसकी जानकारी स्वजन को दी।

स्वजन ने मोबाइल से कॉल करके उनसे वीडियो डिलीट करने की आरजू-मिन्नत की। इस पर उन्होंने बर्बाद करने की धमकी दी।

स्वजन राजद के एक बड़े नेता के पास ले गए। राजद नेता ने धमकी दी कि ज्यादा भागदौड़ कीजिएगा तो परिवार के पूरे सदस्यों की हत्या हो जाएगी। वह स्थानीय थाना पर भी गई। थानाध्यक्ष ने उसे मुकदमा न करने की सलाह देते हुए लौटा दिया।

यह भी पढ़ें: 14 दिन में तीन एटीएम से 72.80 लाख की चोरी, हरियाणा और राजस्थान पुलिस से साधा गया संपर्क; कई जगहों पर हुई छापामारी

Agniveer Recruitment Case: पटना हाईकोर्ट पहुंचा बिना टेंडर अग्निवीर भर्ती का काम कराने का मामला