मुजफ्फरपुर, जेएनएन। एसकेएमसीएच की पीआइसीयू में भर्ती एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रॉम (एईएस) पीडि़त एक बच्ची की शनिवार को मौत हो गई। वहीं एक नया बच्चा भर्ती किया गया है। मृत बच्ची मोतिहारी के मुस्कान कुमारी को दो दिन पूर्व भर्ती कराया गया था। वहीं, सीतामढ़ी सोनबरसा भुताही के मो. अरमान को भर्ती किया गया है। वर्तमान में एसकेएमसीएच की पीआइसीयू में मात्र छह बच्चे इलाजरत हैं। इसमें चार की हालत गंभीर बनी हुई है।

 अस्पताल अधीक्षक डॉ. एसके शाही ने बताया कि इस वर्ष अब तक 453 बच्चे इलाज के लिए यहां पहुंचे। जिसमें 302 बच्चे स्वस्थ होकर वापस घर लौट चुके हैं। जबकि 120 मासूमों को नहीं बचाया जा सका। 12 बच्चों के परिजन बगैर चिकित्सीय परामर्श के अपने मरीज को अन्यत्र लेकर चले गए। 

दिल्ली से पहुंचे चिकित्सकों की अब वापसी

केंद्र सरकार के आदेश के बाद दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों से एसकेएमसीएच पहुंचे शिशु रोग विशेषज्ञों एवं पारामेडिकल कर्मियों की दूसरी टीम के सदस्य भी अब लौटने की तैयारी में हैं। इस टीम में 14 चिकित्सक एवं छह पारामेडिकल कर्मी शामिल हैं। एसकेएमसीएच के चिकित्सकों के साथ यह टीम पीआइसीयू में भर्ती बच्चों की देखरेख में तैनात है। अब बच्चों की बीमारी खत्म होने के कगार पर पहुंचने के साथ इन्हें विरमित किया जा रहा है।

बगैर सूचना चिकित्सक गायब 

एसकेएमसीएच में मोतिहारी से एइएस पीडि़त बच्चों के इलाज को प्रतिनियुक्त डॉ. श्याम बहादुर प्रसाद बगैर किसी जानकारी के एक जुलाई से गायब हैं। अस्पताल अधीक्षक डॉ. एसके शाही ने इसकी सूचना महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. विकास कुमार, मोतिहारी के असैनिक शल्य चिकित्सा पदाधिकारी, जिलाधिकारी, प्रधान स्वास्थ्य सचिव समेत अन्य कई अधिकारी को दे दी है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021