बंदरा (मुजफ्फरपुर), संस। पियर थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिक लड़की की संदिग्ध परिस्थित में मौत हो गई थी। स्वजनों ने उसकी हत्या करने का कुछ लोगों पर आरोप लगाया था। इस पर दोनों पक्षों में पंचायती में समझौता की बात सामने आ रही है। पुलिस को भी इस मामले में कोई जानकारी नहीं दी गई है। 

स्वजनों का आरोप है कि बेटी को शुक्रवार की शाम घर से बुलाकर ले जाने के बाद हत्या करके शव दरवाजे पर फेंक दिया गया। वहीं दबाव बनाकर रात में ही उसे जलवा दिया गया। इस मामले में मुंह नहीं खोलने के एवज में 17 हजार रुपये देने का प्रलोभन दिया गया था। एक पूर्व जनप्रतिनिधि के नेतृत्व में पंचायत में 40 हजार रुपये पर समझौता कराने की बात कही जा रही है। रविवार को इस मामले में दूसरी बार पंचायत हुई और दोनों पक्षों के बीच समझौता किया गया। वहीं जिस पर हत्या का आरोप लगाया गया है उसका कहना है कि लड़की लीची गाछी में फांसी लगाकर मरी है। फांसी पर शव लटका देख उसे उतारकर उसके दरवाजे पर लाए। हमने हत्या नहीं की है। हमें फंसाया जा रहा है। इस संबंध की स्थानीय मुखिया व सरपंच को भी जानकारी नहीं है। वहीं थानाध्यक्ष रवि कुमार गुप्ता ने बताया कि मृत लड़की के पक्ष से कोई आवेदन नहीं दिया गया है।

शराब के साथ एक धंधेबाज गिरफ्तार

जासं, मुजफ्फरपुर : नगर थाना के कालीकोठी इलाके में पुलिस ने छापेमारी कर शराब के साथ एक धंधेबाज प्रमोद कुमार को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में प्रमोद ने अपने साथी गोला रोड के चंदन कुमार के बारे में जानकारी दी। कहा कि दोनों मिलकर शराब का धंधा करते हैं। पुलिस ने दोनों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर ली है।

पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि काली कोठी इलाके में प्रमोद कुमार अपने घर से शराब का धंधा करता है। ग्राहकों को होम डिलीवरी भी करता है। पुलिस मौके पर पहुंची तो दोनों धंधेबाज भागने लगे। स्थानीय लोगों के सहयोग से पुलिस ने एक को दबोच लिया, दूसरा भाग निकला। पुलिस ने प्रमोद के घर की तलाशी ली। एक झोले से 15 पीस ट्रेटा पैक शराब बरामद हुई। पूछताछ में उसने शराब के कई धंधेबाजों के नाम व ठिकाने के बारे में बताया। पुलिस ने छापेमारी की, मगर सभी फरार मिले।  

Edited By: Ajit Kumar