समस्तीपुर, जासं। जिला परिषद सदस्य पद के लिए नामांकित अभ्यर्थियों के नामांकन पत्र की संवीक्षा निर्वाचन पदाधिकारी सह अनुमंडल पदाधिकारी रवीन्द्र कुमार दिवाकर के कार्यालय प्रकोष्ठ में की गई। समीक्षा के उपरांत जिला परिषद सदस्य पद के लिए एक को छोड़ सभी नामांकन वैध पाये गए। समीक्षा में आठ जिला परिषद क्षेत्र के लिए कुल 62 अभ्यर्थियों का नामांकन वैध पाया गया। इसमें 43 पुरुष व 19 महिला प्रत्याशी हैं। पंचायत निर्वाचक सूची में नाम अंकित नहीं होने के कारण प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र संख्या-11 समस्तीपुर से एक अभ्यर्थी इसरत जहां का नामांकन पत्र अस्वीकृत किया गया। बता दें कि द्वितीय चरण के चुनाव में समस्तीपुर जिला के समस्तीपुर, ताजपुर व पूसा प्रखंड के जिला परिषद सदस्यों का नामांकन अनुमंडल कार्यालय में हुआ था। आज नामांकन पत्रों की संवीक्षा की गई।

क्षेत्र संख्या-नाम-पुरूष-महिला - कुल

5- पूसा -09 -1-10

6- पूसा -08-1-09

7 - ताजपुर- 0-4- 04

8-ताजपुर- 0- 3- 03

9-समस्तीपुर-11-0-11

10-समस्तीपुर-7-0-7

11-समस्तीपुर- 0-9-9

12-समस्तीपुर-8-1-9

पंचायत चुनाव के प्रचार प्रसार मामले की जांच का आदेश

समस्तीपुर। उच्च माध्यमिक विद्यालय विशनपुर बिरौली के प्रधानाध्यापक राज कुमार पासवान के विरुद्ध पंचायत चुनाव का प्रचार प्रसार करने से संबंधित मामले की शिकायत जिला शिक्षा पदाधिकारी मदन राय से की गई। डीईओ ने पूसा के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को मामले की जांच का आदेश दिया है। इसमें बताया है कि उक्त प्रधानाध्यापक का पंचायत चुनाव प्रचार करने से संबंधित वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो की क्लिप भी ई-मेल के माध्यम से भेजी गई है। इसको लेकर डीईओ ने मामले की सूक्ष्मता से जांच कर स्पष्ट रिपोर्ट तीन दिनों के अंदर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

मतदाता सूची के लिए फोटो स्टेट की दुकान पर भटकते हैं लोग

उजियारपुर। प्रखंड में पंचायत चुनाव को लेकर मतदाता सूची कार्यालय द्वारा नहीं दी जाती है। इसके लिए लोगों को मुख्यालय स्थित फोटो स्टेट की दुकान का चक्कर लगाना पड़ता है। इसको लेने में लोगों से दुकानदार मनमाने रुपये ले रहे हैं। इसके कारण लोगों का आर्थिक शोषण जारी है। प्रखंड कांग्रेस अध्यक्ष उमेशचंद्र कुमार ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि चुनाव लडऩे वाले को प्रखंड से सत्यापित प्रति मतदाता सूची की आवश्यकता होती है। परंतु यहां की व्यवस्था काफी खेदजनक है। उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी से मतदाता सूची की सत्यापित प्रति उपलब्ध करवाने की मांग की है।