मुजफ्फरपुर, जेएनएन। लीची को बाजार उपलब्ध कराने की प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई है। लीची व लीची प्रसंस्कृत उत्पादों का विपणन राज्य व राज्य के बाहर तथा देश के बाहर निर्यात को लेकर सहायक निदेशक उद्यान अरुण कुमार ने वाहनों का परमिट जारी करते हुए लोडिंग के लिए प्रखंडवार 46 प्वाइंट बनाते हुए इसकी सूची जिला प्रशासन को सौंप दी है। इसके तहत बगान से तुड़ाई के बाद लीची की पैकिंग होगी। वहीं तय स्थल से ट्रक पर लोडिंग होगी।

शारीरिक दूरी का पालन 

लोडिंग शाम छह बजे के बाद शुरू होगी। साथ ही रातभर चलेगी। इसके बाद लीची से लदे ट्रक मुंबई, दिल्ली, जयपुर, आगरा, बेंगलुरू, लखनऊ, चेन्नई रायपुर व रांची आदि शहरों में भेजे जाएंगे। इस दौरान कोरोना वायरस के मद्देनजर शारीरिक दूरी का पालन किया जाएगा। इस वर्ष लॉकडाउन के कारण लीची के किसानों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।  फल तैयार होने से बाद इसकी पैकेजिंग और इसके बाद भेजने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि कृषि विभाग और प्रशासन की ओर से इस दिशा में काफी प्रयास किए गए, लेकिन ये पर्याप्त नहीं साबित हो रहे। सबसे बड़ा नुकसान लीची व्यापारी का शुरू के दौर में नहीं आना रहा। इसलिए मजबूरी का काम किया जा रहा है। किसानों को उचित मूल्य नहीं मिल पाने से वे निराश चल रहे। 

इन स्थानों से होगी लोडिंग

मुशहरी : रघुनाथपुर, जमालाबाद, नवादा चौक, रोहुआ चौक

मुरौल : ढोली व बखरी विशनपुर

मीनापुर : गंज बाजार, नेउरा, बनघरा, बलुआ चौक, सेमाईपट्टी, बाड़ाभारती, मीनापुर, मानिकपुर, टेंगरारा, सिवाईपट्टी, पानापुर, मकसुदपुर, रामपुर हरी व छपरा

बोचहां : सरफुद्दीननगर, पटियासा माई स्थान, टरमा बखरी, गरहां चौक, बोचहां, झपहां व भगवानपुर

कांटी : दामोदरपुर, टरमा, पहाड़पुर, सरमसपुर, चांदनी चौक, नरसंडा चौक, नरसंडा मिक्सिंग प्लांट, नेता चौक, कांटी पेट्रोल पंप, कोठिया बाजार, पानापुर

मड़वन : चैनपुर व फतहपुर

मोतीपुर : मोतीपुर

साहेबगंज : लखना, राजेपुर व बत्थी

सरैया : सरैया

गायघाट : रामनगर 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस