पश्‍च‍ि‍म चंपारण (भितहा), जासं। पंचायत चुनाव को देखते हुए स्थानीय पुलिस बिहार - यूपी को जोडऩे वाले सभी मुख्य मार्गों पर सर्च अभियान चला रही है। शराब के धंधेबाजों एवं शराबियों की धर पकड़ के लिए सीमांचल के सभी मुख्य मार्गों पर पुलिस की पैनी नजर है। थानाध्यक्ष मनोरंजन चौधरी ने बताया कि शांतिपूर्ण ढंग से पंचायत चुनाव को संपन्न कराने के लिए पुलिस सभी ब‍िंदुओं पर सख्ती बरत रही है। उन्होंने बताया कि थाना क्षेत्र के सभी चौकीदारों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने हलका क्षेत्र की जानकारी प्रतिदिन थाना को दें। किसी भी प्रकार का सूचना मिलती है तो त्वरित कार्रवाई होगी।

वहीं पुलिस द्वारा थाना क्षेत्र के बिनहीं- नौगांवा चेकपोस्ट पर घंटों जांच अभियान चलाया गया। जहां यूपी से बिहार में प्रवेश कर रही सभी गाडिय़ों को सघनता पूर्वक जांच की गई। वही पंचायत चुनाव को देखते हुए स्थानीय पुलिस ने अभी तक 460 लोगो पर 107 एवं 116 की कार्रवाई तथा तीन लोगों पर सीसीए की कार्रवाई की गई है। थानाध्यक्ष ने बताया कि चुनाव में किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी न हो इसके लिए पुलिस वैसे लोगो को चिन्हित कर रही है, जिनसे किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न होने की संभावना हो। ऐसे लोगों पर निरोधात्मक कार्रवाई की जाएगी।

मतदान के पूर्व 75 उम्मीदवार निर्विरोध, दो वार्ड सदस्य भी शामिल

संवीक्षा व नाम वापसी के बाद ग्राम कचहरी पंच के 73 उम्मीदवार निर्विरोध हो गए हैं। इसके अलावा निर्विरोध की सूची में दो वार्ड सदस्य भी शामिल हैं। हालांकि इस चुनाव में दो जगह पंच का पद रिक्त भी रह गया है। जिसपर किसी प्रत्याशी ने नामांकन नहीं किया है। पंच के निर्विरोध उम्मीदवार विभिन्न पंचायतों के हैं। वहीं वार्ड सदस्य के दोनों प्रत्याशी जो निर्विरोध हुए हें। उनमें से एक बनकटवा करमहिया व दूसरा महुई पंचायत का है। इधर बगही पंचायत में एक व मठिया पंचायत में एक पंच का पद रिक्त रह गया है। इस पद के लिए किसी प्रत्याशी ने अपना नामांकन नहीं किया है।

निर्वाची पदाधिकारी सह बीडीओ चंद्रगुप्त कुमार बैठा ने बताया कि नाम वापसी के बाद वार्ड सदस्य के दोनों पदों पर कोई दूसरा उम्मीदवार नहीं रह गया। जिसके कारण ये दोनों निर्विरोध हो गए हैं। वहीं दो पंच के पदों पर किसी का नामांकन हीं नहीं हुआ है। निर्विरोध अभ्यर्थियों का प्रमाण पत्र मतगणना के बाद दिया जाएगा। बता दें कि प्रखंड में पंचायत चुनाव को लेकर ग्राम कचहरी पंच के 501, पंचायत सिमित सदस्य के 166, सरपंच के 115, वार्ड सदस्य के 1189 व मुखिया 146 समेत कुल 2117 उम्मीदवार इस चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे थे। निर्विरोध होने के साथ इनकी संख्या घट गई है।