मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। बचपन से लेकर बुढ़ापा तक, स्कूल से लेकर कार्य स्थल तक कोई न कोई ऐसा मिल जाता है जो मित्र बनकर हमारे बारे में बेहतर सोचता है। हमारी मदद करता है। परेशानियों में साथ खड़ा होता है। दुनिया में मित्रता ही ऐसा रिश्ता है जिसे इंसान अपनी पसंद से खुद बनाता है। ऐसे ही मित्रों को समर्पित है फ्रेंडशिप डे। इस दिन को यादगार बनाने के लिए शहर के युवाओं ने विशेष तैयारी की है। कोरोना के कारण इस बार बड़ी संख्या में युवाओं ने अपने मित्र के लिए फ्रेंडशिप बैंड एवं ग्रीटिंग कार्ड घर पर ही तैयार किया है। विशेषकर युवतियों ने। वहीं कुछ लोगों ने दोस्तों को उपहार देने के लिए ऑनलाइन गिफ्ट की खरीदारी की है। शनिवार बाजार में फ्रेंडशिप बैंड, ग्रीटिंग कार्ड एवं उपहार की खरीदारी की। इसके लिए गिफ्ट कार्नरों पर भीड़ लगी रही। इस बार फ्रेंडशिप डे पर रेस्तरां एवं पार्क में मित्र मंडली नहीं लग पाएगी। कोरोना के कारण पार्क एवं रेस्तरां में जाने से वे परहेज कर रहे है। इस बार एक दूसरे के घर जाकर मिलने एवं पुरानी यादों को ताजा करने की तैयारी की है। किसी ने चाकलेट खिलाकर दोस्ती की मिठास को और बढ़ाने की तैयारी की हो किसी ने मित्र की तस्वीर वाली टी-शर्त तैयार करवाया है। युवतियों ने की-रिंग्स, फ्रेंडशिप बैंड, इयर रिंग््स खरीदा है।

प्रतिभा थापा कहती हैं कि अपनी दोस्त के लिए स्वयं ग्रीटिंग कार्ड तैयार किया है। फ्रेंडशिप बैंड भी स्वयं बनाया है। नजदीक में जो फ्रेंड है उसको मिलकर बैंड व कार्ड दूंगी। जो दूर है उनके मैसेज भेज रिश्ते को मजबूत बनाना है। अपनी सहेली के लिए ऑन लाइन उपहार मंगवाया है।

आयुषी भूषण का मानना है कि फ्रेंडशिप डे पर अपने दोस्तों से मिलकर हर साल पार्टी करती थी। लेकिन इस बार घर पर ही मिलकर दोस्ती के बीते दिनों को याद करने का प्लान है। दोस्त के लिए फ्रेंडशिप बैंड खरीदा है। लेकिन ग्रीटिंग कार्ड स्वयं तैयार किया है। जिनसे नहीं मिल सकती उनको मैसेज भेजकर बधाई दूंगी।

मान्या ने कहा कि हर साल फ्रेंडशिप डे पर दोस्तों के साथ मिलकर पार्टी करती थी। पार्क जाती थी। लेकिन कोरोना के कारण दो साल से पार्टी नहीं हो पा रहा है। इसलिए इस बार एक दूसरे के घर जाकर मिलने का कार्यक्रम है। दोस्ती की यादों को मीठा करने के लिए चाकलेट खरीदा है। फ्रेंडशिप बैंड भी बांधना है।

वहीं अनुष्का राज ने कहा कि मैं अपनी दोस्त से एक कार्यक्रम में मिला था। दोनों ने साथ फोटो खिंचवाया था। हर साल फ्रेंडशिप डे पर अपनी दोस्त को उस फोटो के साथ मैसेस भेजकर दोस्ती के यादगार पलों को ताजा करती हूं। उसके लिए उपहार एवं फ्रेंडशिप बैंड भी भेजती हूं। उसके लिए शायरी भी लिखा है।

 

Edited By: Ajit Kumar