मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। जिले का एक और युवक दुश्मन देश पाकिस्तान में फंस गया है। कटरा प्रखंड की तेहवारा पंचायत के ठेकराना टोला निवासी बहादुर महतो (32) करीब एक माह से पाकिस्तान के कब्जे में है। गुजरात के पोरबंदर में फिशिंग बोट पर काम करने के दौरान वह भटककर पाकिस्तान की सीमा में चला गया था। इसके बाद पाकिस्तानी जल सेना ने उसे कब्जे में ले लिया।

मालूम हो कि उसी बोट पर काम करने वाले गायघाट के कमरथू निवासी दिनेश सहनी भी पाकिस्तान के कब्जे में है। इन दोनों के अलावा छह-सात अन्य भारतीय भी वहां फंस गए हैं। बहादुर के छोटे भाई राकेश महतो ने बताया कि फरवरी में वह घर आया था। दस दिन रहने के बाद वह फिर गुजरात चला गया। चार भाइयों में तीसरे नंबर के बहादुर के बारे में 18 मार्च को फिशिंग बोट कंपनी की ओर से सूचना दी गई कि वह पाकिस्तान में फंस गया है। इसके बाद से स्वजन परेशान हैं। पिता विनोद सहनी बीमार रहते हैं। पुत्र के दुश्मन देश में फंसने से वे भी परेशान हो गए हैं। पत्नी मनीषा देवी और उसके तीन छोटे बच्चे की भी चिंता परिवार को है। स्वजनों ने कटरा अंचलाधिकारी को आवेदन देकर बहादुर की रिहाई की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर : अपहृत होटल कर्मी के मामले में आया नया मोड़, गोवा जाएगी पुलिस...

राकेश ने बताया कि बहादुर पिछले चार-पांच वर्षों से बोट पर काम करता था। दस दिनों का अवकाश कंपनी की ओर से दिया जाता है। फरवरी में दस दिन के लिए आकर फिर लौट गए। ड्यूटी ज्वाइन करने के बाद नौ मार्च को उनसे अंतिम बार बात हुई थी। 18 मार्च को कंपनी की ओर से बताया कि मछली मारने के दौरान समुद्र में भटककर वे पाक सीमा में चले गए। इसके बाद से वहीं फंसे हैं। इसके बाद स्थनीय जनप्रतिनिधियों को इसकी जानकारी दी। कोई फायदा नहीं हुआ तो सीओ के यहां आवेदन दिया गया है। दुश्मन देश में फंसने के कारण सभी ङ्क्षचतित हैं। सरकार शीघ्र रिहाई का प्रयास करे। 

यह भी पढ़ें : Muzaffarpur: बीआरए ब‍िहार व‍िश्‍ववि‍द्यालय में अब 30 अप्रैल तक करें पीजी में आवेदन, जान‍िए अब तक क‍ितने आवेदन

 यह भी पढ़ें : LOVE...AUR DHOKHA: ऐसा भी होता है क्‍या? बैंक खाता खुलवाने में ही प्यार हो जाए, समस्तीपुर की युवती को हुआ और...

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021