मुंगेर [जेएनएन]। छत्तीसगढ़ के सुकमा स्‍थित किस्टाराम एरिया में मंगलवार को नक्सली हमले में शहीद हुए मुंगेर जिले के जमालपुर के सिकंदरपुर गांव के निवासी अजय यादव की पत्नी ने राज्य सरकार की तरफ से दी गई पांच लाख की राशि लेने से मना कर दिया है।

शहीद की पत्नी ने राशि लेने से किया इनकार करते हुए कहा कि राज्य सरकार शहीद का अपमान कर रही है। उन्होंने कहा कि इतनी राशि तो सड़क हादसे में मौत के बाद भी सरकार देती है।

बता दें कि मंगलवार को सुकमा में नक्सलियों ने आइइडी विस्फोट की घटना को अंजाम दिया, जिसमें सीआरपीएफ के 212 बटालियन के नौ जवान शहीद हो गए। इनमें एक बिहार के मुंगेर जिले के जमालपुर के सिकंदरपुर गांव के रहने वाले अजय कुमार यादव भी शहीद हो गए हैं। 

अजय कुमार यादव मूलरूप से मुंगेर जिला के जमालपुर अनुमंडल के सिकंदरपुर के रहने वाले हैं। राज्य पुलिस मुख्यालय के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में कोबरा बटालियन को टारगेट करने वाला नक्सली दस्ता झारखंड के रास्ते बिहार के सीमावर्ती जिलों में पनाह ले सकता है। इस मद्देनजर झारखंड से लगे बिहार के सभी सीमावर्ती जिलों को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

सीमावर्ती जिलों में तलाशी अभियान भी शुरू कर दिया गया है। सुकमा में हुए नक्सली हमले में शहीद हुए  5 लाख की राशि लेने से किया इनकार, शहीद की पत्नी ने राशि लेने से किया इनकार, सुकमा हमले में शहीद जवान को 5 लाख मदद, राज्य सरकार शहीद का कर रही है अपमान

सुकमा में नक्सली हमले के बाद बिहार में हाईअलर्ट

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सुरक्षा बलों पर हुए नक्सली हमले के बाद गृह मंत्रालय ने छत्तीसगढ़, बिहार व झारखंड समेत देश के सभी नक्सल प्रभावित राज्यों को हाईअलर्ट कर दिया है। 

By Kajal Kumari