मुंगेर। वैश्विक महामारी कोरोना के बाद प्रखंड के सिघिया पंचायत के लोगों की परेशानी अब बाढ़ और तेज बारिश बढ़ा रही है। बाढ़ और बरसात का पानी घरों में प्रवेश कर जाने के कारण कई लोग बेघर हो गए।

शुक्रवार को आक्रोशित लोगों ने मुखिया प्रतिनिधि को घेर कर अपनी समस्याओं से अवगत कराया। बीते दो दिनों से लगातार हो रही तेज बारिश के कारण एक बार फिर से गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी होने लगी है। ऐसे में खेत खलिहान के बाद अब पानी गांव घर में प्रवेश कर गया है। इधर, ग्रामीणों का हाल-चाल पूछने के लिए जब पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि बबलू मलिक उर्फ जमाल मलिक जगदंबापुर वार्ड नंबर 10, 12, 13, 14 पहुंचे, तो आक्रोशित ग्रामीणों ने मुखिया प्रतिनिधि को घेर कर अपनी समस्या से अवगत करवाया। हालांकि मुखिया प्रतिनिधि से तत्काल ग्रामीणों को सहायता उपलब्ध कराई। वहीं, पदाधिकारियों को भी वस्तु स्थिति से अवगत कराया। आक्रोशित बाढ़ पीड़ित गोपाल मंडल, अशोक मंडल, हरिहर यादव, धर्मेंद्र यादव, कारे पंडित, राजीव यादव, पप्पू यादव, बालों यादव, चंडी मंडल और साबो देवी ने कहा कि अगर 48 घंटे के अंदर हम लोगों को राहत सामग्री उपलब्ध नहीं कराई गई, तो सड़क पर उतर कर आंदोलन करेंगे। बताते चलें कि बीते तीन दिनों से सिघिया पंचायत के चार वार्ड में बाढ़ एवं बारिश का पानी लोगों के घरों में प्रवेश कर गया है। जिससे उनकी मुश्किलें बढ़ गई है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस