Move to Jagran APP

Munger Road Accident: चुनाव ड्यूटी पर जा रहे पुलिस वाहन ने युवक को कुचला, मौत पर ग्रामीणों ने सड़क जामकर काटा बवाल

बिहार के मुंगेर में एनएच 80 पर पुलिस वाहन के धक्के से एक स्थानीय युवक की घटनास्थल पर मौत हो गई। घटना के विरोध में गांवावालों ने सड़क जामकर जमकर हंगामा काटा।जाम की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और काफी मशक्कत के बाद ग्रामीणों को समझा-बुझाकर जाम को खत्म कराया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मुंगेर भेज दिया है।

By Jagran News Edited By: Mohit Tripathi Published: Wed, 01 May 2024 06:10 PM (IST)Updated: Wed, 01 May 2024 06:10 PM (IST)
युवक की मौत पर ग्रामीणों ने काटा बवाल। (जागरण फोटो)

संवाद सूत्र, हेमजापुर (मुंगेर)। बिहार के मुंगेर जिले में हेमजापुर थाना अंतर्गत एनएच 80 पर बड़ी लगमा गांव के समीप पुलिस वाहन के धक्के से एक स्थानीय युवक की घटनास्थल पर मौत हो गई। हादसे के विरोध में ग्रामीणों ने सड़क जाम कर दिया।

जाम की सूचना पाकर हेमजापुर पुलिस मौके पर पहुंची और काफी मशक्कत के बाद जाम खत्म कराने में सफलता पाई। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मुंगेर भेज दिया। ‌घटना को लेकर स्थानीय ग्रामीणों में काफी आक्रोश देखा गया।

बुधवार की दोपहर लगभग तीन बजे के आसपास अमित कुमार उर्फ संजीव कुमार (20 वर्ष) साइकिल पर सवार होकर सड़क के बगल से चला जा रहा था। इसी दौरान, चुनाव ड्यूटी के लिए जा रही मिलिट्री फोर्स के वाहन से उसे धक्का लग गया। उसके सिर में काफी गंभीर चोंटे आईं और घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। आक्रोशित स्वजन ने मुंगेर-लखीसराय मुख्य मार्ग को तुरंत जाम कर दिया। ‌

जाम की सूचना पाकर जमालपुर इंस्पेक्टर ध्रुव कुमार, हेमजापुर थाना अध्यक्ष नीरज कुमार, सीओ वीरेंद्र कुमार सहित कई पुलिस कर्मी पहुंचे और स्वजन को काफी समझाने-बुझाने का प्रयत्न किया। लेकिन, स्वजन एसपी और डीएम को घटनास्थल पर बुलाने की मांग के साथ मृतक के स्वजन में से किसी एक को सरकारी नौकरी दिलाने की मांग पर अड़े रहे।

तीन घंटे तक लग रहा जाम

करीब 60 से अधिक की संख्या में मिलिट्री फोर्स के वाहन जाम में फंसी रही। सभी वाहन चुनाव के लिए संसदीय क्षेत्र में जा रहे थे।

धक्का मारने वाला पुलिस का वाहन तो धक्का मार कर फरार हो गया, लेकिन उसके पीछे चल रही करीब 60 से अधिक गाड़ियां जाम में फंस गई।

इसके अलावा, अन्य कई सवारी गाड़ियां भी जाम में फंसी रही, जिससे यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

इधर हेमजापुर ओपी अध्यक्ष नीरज कुमार और अंचलाधिकारी वीरेंद्र कुमार ने बताया कि कागजी प्रक्रिया पूर्ण की जा रही है। ‌ सड़क दुर्घटना के शिकार युवक के स्वजन को नियम अनुसार मुआवजा दिलाया जाएगा।

विधवा का छिन गया सहारा

करीब 20 वर्ष पहले अमित के पिता गंगा यादव की भी हेमजापुर छोटी लगमा गांव के समीप सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। विधवा मां देवी देवी को अपने दो पुत्रों का सहारा था। पुत्र अमित की सड़क दुर्घटना में मौत के बाद मां का एक सहारा आज छिन गया। ‌

एक तरफ मां अपने बच्चों के सब के पास विलाप कर रही थी वहीं दूसरी तरफ अपने पोते को जान से अधिक प्यार करने वाली बूढी दादी अमोला देवी की आंखों से आंसू थम नहीं रहे थे। कोई घटना स्थल से कुछ दूर बैठी विलाप कर रही थी 'कहां गेले रे हम्मर पोता...।

मुआवजा मिलने में देरी से स्वजन आक्रोशित

हेमजापुर थाना अंतर्गत कई दुर्घटनाओं के शिकार स्वजन को मुआवजा राशि समय पर नहीं मिल पाने से ग्रामीण और स्वजन काफी आक्रोशित नजर आए।

ग्रामीणों का कहना था कि सड़क दुर्घटना के शिकार लोगों को मुआवजा समय पर नहीं मिलता है। कई महीने पहले इसी गांव के सूरज कुमार की मौत सड़क दुर्घटना में हो गई, जिनके परिजन को अभी तक मुआवजा नहीं मिला।

ग्रामीणों का कहना है कि सड़क पर इन दिनों बड़ी संख्या में वाहन चल रही है, जिससे लगातार सड़क दुर्घटनाएं हो रही है।

यह भी पढ़ें: Bihar Politics: '...वोट मांगने नहीं आऊंगा', सम्राट चौधरी ने भरी सभा में क्यों किया ऐसा एलान? सियासी हलचल तेज

Tejashwi Yadav: 'हिंदू-मुस्लिम, मंदिर-मस्जिद...', तेजस्वी यादव ने भाजपा के लिए क्यों कही ऐसी बात?


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.