धरहरा (मुंगेर) । प्रखंड के लड़ैयाटाड़ थाना क्षेत्र के नोनिया पहाड़ के नदी से पुलिस ने एक वृद्ध व्यक्ति का शव बरामद किया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल मुंगेर भेज दिया गया है। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है। वहीं शव की बरामदगी होने की सूचना मिलते ही परिजन में कोहराम मच गया। पत्नी पति के शव को देख कर रोते-रोते बार-बार बेहोश हो जा रही थी। बताया जाता है कि पूर्व रंजिश के कारण लड़ैयाटाड़ धर्मपुर निवासी मखरू मांझी उर्फ मक्केश्वर मांझी को मंगलवार की रात्रि में अपराधियों ने मारकर के नोनिया पहाड़ के समीप नदी में फेंक दिया था। सुबह में पुलिस ने नदी से शव को बरामद किया। मृतक की पत्नी मंजू देवी ने बताया कि मंगलवार की शाम में मेरे पति बथान पर गए थे। रात में घर नहीं आने पर काफी खोजबीन की, लेकिन कहीं अता-पता नहीं चला। सुबह में ग्रामीणों ने मेरे पति के शव को नौनिया पहाड़ के नदी में देखा। मेरे पति की हत्या लाठी डंडा और लात घूंसे से पीट पीट कर की गई है। इस बाबत लड़ैयाटाड़ थानाध्यक्ष नवनीश कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। आवेदन मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामला का खुलासा होगा।

---------------------

बाक्स

प्राथमिकी दर्ज नहीं होने के विरोध में किया एसपी का घेराव

लड़ैयाटाड़ थाना क्षेत्र के लड़ैयाटाड़ धर्मपुर निवासी मखरू मांझी उर्फ मक्केश्वर मांझी की हत्या के मामले पुलिस के द्वारा नामजद प्राथमिकी दर्ज नहीं करने के विरोध में मृतक मंजू देवी सहित अन्य ग्रामीणों ने एसपी कार्यालय का घेराव किया। इस बाबत एसपी कार्यालय का घेराव करने पहुंची में मृतक की पत्नी मंजू देवी ने बताया कि 14 मार्च 2017 को मेरे पुत्र के साथ साइकिल गिराने को लेकर विवाद हुआ था। जब इसकी शिकायत घरवालों से करने गई थी, तो वहां जाने पर मेरे व मेरे पति के साथ बेरहमी से मारपीट की गई थी। इसको लेकर मैंने थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है। इस केस को उठाने के लिए आरोपितों द्वारा बार बार धमकी दी जा रही थी। इसी रंजिश के विरोध में लड़ैयाटाड़ निवासी विनोद यादव, अमित यादव, ¨चकू यादव, अजय यादव ने मेरे पति की हत्या कर दी और प्राथमिकी दर्ज करने के लिए कहां तो थानाध्यक्ष ने आवेदन नहीं लिया और फिर पोस्टमार्टम पर्ची थमा दिया।

-------------------------

अपराधियों ने झोपड़ी में लगाई आग संवाद सूत्र, धरहरा (मुंगेर) : धरहरा थाना क्षेत्र के दशरथपुर स्थित संतनगर में कुछ अपराधियों ने जमीन हड़पने को लेकर एक झोपड़ी में आग लगा दी। जिसके कारण झोपड़ी में रखा सामान जलकर खाक हो गया। इस संबंध में पीड़िता गो¨वदपुर निवासी स्वर्गीय शिवचरण ¨सह की पत्नी विद्या देवी ने स्थानीय थाना में आवेदन देकर घटना में शामिल 3 लोगों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। बताया जाता है कि मंगलवार की देर रात्रि जमीन हड़पने की नियत से स्थानीय कुछ लोगों ने विद्या देवी की झोपड़ी में आग लगा दी। झोपड़ी में आग लगने की सूचना पर पहुंची विद्या देवी व उसके परिजन ने देखा कि भलार के दो व्यक्ति व संत नगर के एक व्यक्ति मिलकर झोपड़ी में आग लगाकर जला रहे हैं। इसकी सूचना पीड़िता ने स्थानीय थाना को दी है। वहीं थानाध्यक्ष दुबे देवगुरु ने कहा कि पीड़िता के द्वारा आवेदन दिए जाने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran