जमालपुर (मुंगेर) : जमालपुर में निर्माणाधीन सेंट्रलाइज्ड रूट रिले सिस्टम को लेकर नन इंटरलॉ¨कग का कार्य चल रहा है। कार्य का जायजा लेने डिवीजन के कई अधिकारियों का अक्सर जमालपुर आगमन हो रहा है। अधिकारियों द्वारा सुरक्षित ट्रेन परिचालन को लेकर बार-बार महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश भी दिए जा रहे हैं। इसके वाबजूद रेल इंजन कारखाना जमालपुर परिसर में बुधवार को 12:00 बजे शं¨टग के दौरान एक रेल इंजन पटरी से उतर गया। पहले कारखाना परिसर में उपलब्ध संसाधनों द्वारा पटरी पर लाने का प्रयास किया गया। लेकिन, इसमें सफलता नहीं मिली, जब जमालपुर रेलवे स्टेशन से एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन मंगाया गया। कड़ी मशक्कत के बाद संध्या करीब 17:00 बजे इंजन को दोबारा पटरी पर लाया जा सका।

सूत्रों से मिली सूत्रों से मिलीजानकारी के अनुसार एनएस यार्ड में शं¨टग के दौरान लोको संख्या 18992 पटरी पर से उतर गया था। इस कारण लोड बॉक्स के प्वाइंट पर डिरेलमेंट से शं¨टग कार्य प्रभावित हुआ। बाद में जमालपुर रेलवे स्टेशन से कारखाना के गेट संख्या 4 होकर एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन ले जाया गया। जहां ट्रेन के इंचार्ज अमित कुमार सिन्हा, रमेश प्रसाद ¨सह, मिथिलेश झा, एस के राय, विक्रम कुमार, नीरज कुमार, अजय कुमार ठाकुर सहित दर्जनभर कर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद इंजन को पटरी पर लाया। इस संबंध में कारखाना के जनसंपर्क पदाधिकारी सह सहायक कल्याण अधिकारी राजीव कुमार ने बताया कि एनएस यार्ड भंडार विभाग के अधीन आता है। इस संबंध में वहीं से कोई जानकारी मिल सकती है।

Posted By: Jagran