मधुबनी । केंद्र सरकार प्रतिवर्ष पांच सितंबर को शिक्षक दिवस के अवसर पर शैक्षणिक एवं सामाजिक कार्य में उत्कृष्ट योगदान के लिए शिक्षकों को सम्मानित करती है। केन्द्र सरकार प्रतिवर्ष इसके लिए आवेदन आमंत्रित करती। प्राप्त आवेदन के आलोक में जिलास्तरीय समिति द्वारा प्रत्येक जिले से तीन शिक्षकों का नाम अग्रसारित किया जाता है। जिसमें 50 प्रतिशत महिलाओं के लिए स्थान सुरक्षित होता है। डीईओ नसीम अहमद ने बताया कि 18 जुलाई को जिलास्तरीय बैठक में तीन शिक्षकों का नाम चयन कर राज्य को प्रेषित किया गया था। जिसमें से राज्यस्तरीय कमिटी द्वारा शॉर्टलिस्ट कर बिहार के छह जिलों के शिक्षकों का नाम राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार हेतु केन्द्र को भेजा गया है। जिसमें मधुबनी के राजकीयकृत मध्य विद्यालय रांटी की शिक्षिका चन्दना दत्त का भी नाम शामिल हैं। यह मधुबनी के लिए गौरव का विषय है। चयनित अभ्यर्थी को पांच अगस्त को शिक्षा विभाग पटना पहुंचना है। वहां से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के द्वारा केन्द्रीय कमेटी के समक्ष अपना प्रेजेंटेशन प्रस्तुत करना होगा। राजकीय शिक्षक सम्मान प्राप्त वाट्सन विद्यालय के शिक्षक डॉ. रामसेवक झा ने शिक्षिका चंदना दत्त को बधाई देते हुए बताया कि राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिए मधुबनी से एक योग्य महिला का चयन किया गया है, जिसके लिए जिलास्तरीय कमेटी तथा राज्य कमेटी प्रशंसा के पात्र हैं । उन्होंने बताया कि बिहार सरकार भी प्रतिवर्ष शिक्षक दिवस के अवसर पर राजकीय शिक्षक सम्मान की घोषणा करती है। जिसमें राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार हेतु चयनित शिक्षकों को भी बिहार सरकार राजकीय शिक्षक सम्मान से सम्मानित करते हैं। राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान की सूची इस महीने के अंत तक प्रकाशित होने की संभावना है।

Edited By: Jagran