मधुबनी। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर लॉकडाउन के अनुपालन को लेकर प्रशासन ने कमर कस ली है। जरूरी सेवाओं को छोड़कर आवाजाही पूरी तरह से बंद है। इस दौरान सीओ रामकुमार पासवान ने पुलिस बल के साथ मधवापुर, बिहारी, बासुकी व साहरघाट बाजार में पैदल मार्च कर लॉकडाउन अनुपालन को लेकर 11 बजे के बाद भी खुली दुकानों को बंद कराया। बेवजह सड़क पर घूम रहे लोगों पर सख्ती बरती गई। इस क्रम में शरारती तत्वों को डंडे का भय दिखाकर घर में रहने की हिदायत दी गई।

सीओ रामकुमार पासवान ने कहा कि कोरोना महामारी को लेकर सरकार की ओर से जारी लॉकडाउन के अनुपालन पर प्रशासन पूरी गंभीरता के साथ कार्य कर रहा है। कोरोना से क्षेत्र को बचाना ही हमारा मुख्य उद्देश्य है। इसलिए आमलोगों से अपील है कि घर में ही रहें, बेवजह इधर उधर नहीं घूमे। अन्यथा प्रशासन आपके साथ सख्ती करने को विवश होगा। बता दें कि मधवापुर प्रखंड में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर कहर बरपा रही है। संक्रमित मरीजों की संख्या 235 पर पहुंच चुकी है। इसे देखते हुए प्रशासन ने सख्ती से लॉकडाउन के नियमों व शर्तों का अनुपालन करने के लिए लोगों को जागरूक कर घरों रहने की हिदायत दी है। सरकार के द्वारा जारी निर्देशों लॉकडाउन के नियमों व शर्तों का अनुपालन नहीं करने वालों के खिलाफ अब कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान सीओ रामकुमार पासवान ने मधवापुर में लगने वाली सब्जी बाजार को बंद कराया। कहा कि बाजार लगाते पकड़े जाने पर विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी। मौके पर साहरघाट थानाध्यक्ष सुरेन्द्र पासवान, मधवापुर प्रभारी थानाध्यक्ष उग्रसेन पासवान समेत पुलिस बल के जवान मौजूद थे।