मधुबनी। खजौली थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर शनिवार की सुबह खजौली मदना गांव के मध्य स्थित सड़क के किनारे से 410 बोतल नेपाली शराब के साथ तीन बाइक जब्त की। इस क्रम में पुलिस ने तीन धंधेबाजों को भी गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार धंधेबाजों की पहचान बाबूबरही थाना क्षेत्र के मैनापट्टी गांव निवासी मुकेश कुमार सिंह, राजनगर थाना क्षेत्र लक्ष्मीपुर गांव निवासी रमेश साहनी एवं खजौली थाना क्षेत्र के कन्हौली गांव निवासी विलटू सहनी के रूप में हुई है। सभी धंधेबाज को पूछताछ बाद शनिवार को न्यायिक हिरासत में मधुबनी भेज दिया गया। थानाध्यक्ष अजीत प्रसाद सिंह ने बताया कि छापेमारी के क्रम में एक प्लेटिना, एक होण्डा व एक पल्सर बाइक सहित कम तीन बाइक भी जब्त की गई। छापेमारी दल में थानाध्यक्ष अजीत प्रसाद सिंह, एएसआई चरित्र राम, अरुण कुमार सिंह सहित थाना के पुलिस बल शामिल थे। शराबी बेटा को पिता ने किया पुलिस के हवाले पंडौल। पंडौल थाना क्षेत्र के डभारी में वृद्ध पिता ने अपने शराबी बेटे को पुलिस के हवाले कर प्राथमिकी दर्ज कराई है। डभारी निवासी मो. हारूण ने पंडौल थाना में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए बताया कि बेटा मो. नजीर प्रतिदिन शराब पीकर आसपास के लोगों के साथ गालीगलौज व झंझट के साथ ही परिवार वालों के साथ मारपीट किया करता था। गुरुवार की देर शाम वह शराब के नशे में धुत होकर घर आया और अपनी बहु, पत्नी व बेटी सहित अन्य परिजनों को गालीगलौज देते हुए बुरी तरह मारने-पीटने लगा। वृद्ध पिता सहित सबों ने समझाने का काफी प्रयास किया, लेकिन वह डंडा उठा अपने वृद्ध पिता को भी पीटने लगा। तंग आकर परिजनों ने घटना की सूचना पंडौल थानाध्यक्ष अनोज कुमार को दी। सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंच शराबी को गिरफ्तार कर ले गई। उसका पंडौल पीएचसी में मेडिकल जांच कराया जिसमें शराब पीने की पुष्टि हुई। तदुपरांत उसके पिता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Edited By: Jagran