पंडौल (मधुबनी), जासं। पंडौल थाना क्षेत्र अंतर्गत यमसम में दुर्गा पूजा के दौरान हुई चाकूबाजी में दो वृद्ध घायल हो गए। इस मामले में पंडौल पूर्वी के सरपंच सुदिष्ट प्रसाद व उनके दोनों बेटे राजा प्रसाद व गौड़ी शंकर प्रसाद के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। प्राथमिकी में उल्लेख किया गया है कि नवरात्रा के दौरान यमसम दुर्गा स्थान परिसर में जागरण का कार्यक्रम चल रहा था।

नशे की हालत में हंगामा

देर रात जागरण के दौरान नशे में धुत होकर सरपंच सुदिष्ट प्रसाद के बेटे गौड़ी शंकर प्रसाद व राजा प्रसाद अपने कुछ साथियों के साथ वहां पहुंच गया। कार्यक्रम में बाधा पहुंचाने की नीयत से वह बार-बार हंगामा करने लगा। जागरण कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने उन्हें कई बार शांत कराया। लेकिन, वह उनकी बातों को अनसुना कर हंगामा करता रहा। हंगामा को शांत कराने की नीयत से रघुनाथ झा व उनके भाई श्रीनाथ उर्फ सुमन झा कुछ लोगों के साथ गए। इसी बीच सरपंच सुदिष्ट प्रसाद भी वहां पहुंच गए। वह अपने बेटों को समझाने की बजाए वहां मौजूद लोगों से उलझ पड़े। इसी बीच जान से मारने की नीयत से चाकू लेकर राजा प्रसाद ने हमला कर दिया। जिसमें रघुनाथ झा एवं उनके भाई श्रीनाथ झा घायल हो गए। लोगों को डराने की नीयत से गौड़ी शंकर प्रसाद पिस्टल निकालकर लहराने लगा।

पुलिस कर रही मामले की जांच पड़ताल

लोगों के आक्रोश को देखते हुए तत्काल सरपंच सुदिष्ट प्रसाद व उनके दोनों बेटे वहां से फरार हो गए। लोगों ने दोनों घायल वृद्ध को इलाज के लिए पंडौल पीएचसी पहुंचाया। घटना की सूचना पंडौल थाना को दिया गया। सूचना मिलते ही एएसआइ धर्मेंद्र कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। थानाध्यक्ष शंकर शरण दास ने बताया कि घायल रघुनाथ झा के बयान पर सरपंच व उसके दोनों बेटे के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करते हुए अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट