मधुबनी। फुलपरास अनुमंडल मुख्यालय स्थित लोहिया आश्रम में बुधवार को जेपी सेनानी हाजी मो. इदरीस के निधन पर सजद (डी) के कार्यकर्ताओं ने शोक सभा का आयोजन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। शोकसभा में पूर्व केंद्रीय मंत्री व सजद (डी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि उनकी कर्मभूमि फुलपरास रही है। इदरीस के रूप में उन्होंने जिगरी दोस्त व नेकदिल इंसान को खो दिया। वे गरीबों के हमदर्द थे। वे न केवल जेपी सेनानी थे बल्कि समाजवादी सिद्धांत और लोकतांत्रिक मूल्यों के पैरोकार थे। इसकी पूर्ति निकट भविष्य में नहीं हो सकती है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री से उनकी मौत की जांच की मांग की है। आइजीएमएस, पटना में उनकी किडनी से पत्थर निकालने के क्रम में चिकित्सकों ने चूक की। इस कारण उनकी मौत हो गई। मुख्यमंत्री से मांग की गई है कि इसकी उच्चस्तरीय जांच हो।

श्रद्धांजलि सभा में पूर्व विधायक रामकुमार यादव, राजेश सिंह, सुनील कुमार मंडल, जिलाअध्यक्ष सुरेश चंद्र चौधरी, असलम अंसारी, मो. औसफ लड्डन, जिप सदस्य संजय यादव, यासीन अंसारी, भोला नेता, कपिलदेव यादव, रामेश्वर भारती, उमेश भिडवार, राजकुमार यादव, सुरेंद्र प्रसाद यादव, कामेश्वर यादव, मसूद आलम, राजेश दास, मनोज यादव, घुरन विश्वास, सूर्यनारायण यादव, मो असलम, सुधीर चौधरी, आनन्द मोहन, जयचंद्र झा, लक्ष्मी प्रसाद साह, गणेश सिंह, तहसीन अहमद, संतोष यादव, शशि रंजन, बबलू, मो गुरफम, मो नसीम, विश्वनाथ कुशवाहा, अरविद कुमार सिन्हा, जगदीश हाजरा, नवकांत झा, गंगा प्रसाद यादव, कमल प्रसाद कुवर, राम भगत समेत सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल हुए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस