संवाद सूत्र, उदाकिशुनगंज (मधेपुरा) : कोरोना संक्रमण की पहली व दूसरी लहर के संक्रमण के बाद भी लोग सावधानी नहीं बरत रहे हैं। इस बार तीसरी लहर में अधिक लोग संक्रमित हो रहे हैं। हर रोज जांच में नए केस सामने आ रहे हैं। पिछले चार दिनों में दो दर्जन लोग संक्रमित मिले। इसकी रफ्तार जारी है। यद्यपि लोग बेपरवाह बने हुए हैं। जबकि लोगों को बेहद सतर्कता बरतने की जरूरत है। लोग अब भी बाजारों व सार्वजनिक स्थलों पर बिना मास्क और शारीरिक दूरी बनाए बिना घूम रहे हैं। निसंदेह ऐसे लोग खुद तो कोरोना की चपेट में आएंगे ही, वे दूसरों के लिए भी खतरा बनेंगे। अब अगर बाजारों, सड़क, चौक, चौराहे व सार्वजनिक स्थानों पर नजर दौड़ाएं तो 90 फीसद ऐसे लोग मिलेंगे जिन्होंने या तो मास्क ही नहीं लगाया होगा। बाजारों में बिना मास्क के लगती भीड़

उदाकिशुनगंज अनुमंडल मुख्यालय सहित ग्रामीणों के बाजारों में भारी भीड़ देखी जा रही है। उसमें बिना मास्क के घूम रहे लोगों की संख्या भी काफी ज्यादा मिल जाएगा। मुख्यालय के सब्जी बाजारों में खरीदारी के लिए लोग विशेष रूप से आते हैं। जहां कोविड के नियमों की धज्जियां सरेआम उड़ती दिखी। रात के क‌र्फ्यू का आदेश जारी होने के बाद भी लोगों के अंदर डर और जागरूकता नहीं दिख रही है। बाजार में किराना की दुकान, कपड़ा शोरूम, नाश्ता सहित अन्य दुकानों पर भीड़ देखने को मिल रही है। बहरहाल बाजार में पड़ताल के बाद देखने को मिला है कि लोग कोरोना को भूल गए हैं। सब्जी बाजारों में नहीं मानते नियम

प्रखंड मुख्यालय की सब्जी मंडी में भी खरीददारों के अंदर हमेशा की तरह सामान्य माहौल दिखा। यहां लोग सब्जी खरीद कर आम दिनों की तरह घर को जा रहे थे। किसी के अंदर कोरोना को लेकर डर नहीं दिखा। जबकि मंडी में सब्जी की दुकानों पर भीड़ जुट रही थी। सरकार का आदेश आ गया है। यहां लोगों को कोरोना की तीसरी लहर का कोई डर नहीं दिख रहा है। लोग बिना किसी भय के सामान खरीद रहे और मुंह पर मास्क तक नहीं लगा रहे हैं। कोरोना संक्रमण को लेकर लगातार टीकाकरण कराया जा रहा है। बिना मास्क के घूमने वाले लोगों को प्रशासन द्वारा जागरूक किया जा रहा है। ताकि तीसरी लहर के प्रकोप से बच सके। उन्होंने लोगो से सावधानी बरतने की अपील की। जब भी घरों से बाहर निकले मास्क जरूर लगाएं।

डा.इंद्रभूषण कुमार प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, उदाकिशुनगंज

Edited By: Jagran