मधुपेरा। फुलौत के ऐतिहासिक कोसी सीमांचल का विख्यात चार दिवसीय बाबा जय सिंह मेले का उद्घाटन लघु सिचाई एवं विधि मंत्री नरेन्द्र नारायण यादव, जिप सदस्य अनिकेत कुमार मेहता ने संयुक्त रूप से फीता काटकर किया। बाबा जय सिंह मेला उद्घाटन समारोह के दौरान बाढ़ राहत का मामला मंत्री के सामने छाया रहा। जिप सदस्य अनिकेत कुमार मेहता ने बाढ़ राहत मामले का मुद्दा उठाते हुए कहा कि अधिकारियों द्वारा दिए गए कई आश्वासनों के दौर गुजरने के बावजूद भी यहां के बाढ़ से पीड़ित किसानों को अब तक न तो फसल क्षति की मुआवजा दी गई है न ही गृह क्षति का मुआवजा दिया गया है। यहीं नहीं अब तक प्रति घर छह हजार रुपये का अनुदान राशि दिया भी नहीं दिया गया है। जिप सदस्य ने बाढ़ के दौरान क्षतिग्रस्त पुल, पुलिया और क्षेत्र में कई अ‌र्द्धनिर्मित सड़क निर्माण कार्य में संवेदक द्वारा किए जा रहे लापरवाही से मंत्री को अवगत कराया। मंत्री नरेन्द्र नारायण यादव ने अपने संबोधन में कहा कि हम लगातार एसडीएम और डीएम से संपर्क कर बाढ़ राहत अनुदान राशि अविलंब वितरण करवाने को प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि मुख्य सचिव और मुख्यमंत्री से मिलकर विश्वास दिलाया कि हमने खुद बाढ़ के दौरान क्षेत्र में नाव से घूमकर चार दिन सर्वेक्षण किया। बाढ़ से पुरी तरह लोग त्रस्त थे। मेला अध्यक्ष प्रकाश चौधरी ने कहा कि मेले में चारों दिन अन्तर्राष्ट्रीय पहलवानों का कुश्ती, स्थानीय कलाकारों द्वारा नाटक मंचन, कोलकाता के कलाकार द्वारा जागरण एवं अंतिम दिन 16 दिसंबर को भोजपुरी कलाकार बंसीधर चौधरी एंड पार्टी कलाकार द्वारा शानदार रंगारंग प्रस्तुति पेश किया जाएगा। मौके पर मुखिया बबलू यादव, बबलू ऋषि देव, मोरसंडा पंसस मुकेश कुमार, अरुण सिंह, महेश चौधरी, परमान्द चौधरी, पंचानंद चौधरी, डाक्टर पप्पू चौधरी, विनोद भारती, हरिबोल चौधरी, रनविजय चौधरी आदि मौजूद थे।

-----------

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस