संवाद सूत्र, पुरैनी (मधेपुरा) : प्रखंड अंतर्गत औराय पंचायत के मतदान केंद्र संख्या 38 व 39 पर मतदाताओं के वोटिग करने के दौरान अफरा-तफरी की खबर पर पहुंचे जिला प्रशासन की पूरी टीम को देखकर स्थानीय मतदाताओं का आक्रोश चरम पर पहुंच गया। स्थानीय मतदाताओं का कहना था कि सिर्फ इसी मतदान केंद्र पर ही प्रशासनिक टीम का लगातार हस्तक्षेप करना समझ से परे है। इसको लेकर मतदाताओं ने एक घंटे तक जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर बवाल काटा। स्थिति को अनियंत्रित होते देख जिला प्रशासनिक टीम में शामिल अधिकारियों ने खुद की सुरक्षा के लिए जैकेट, हेलमेट आदि पहनने पर मजबूर हो गए। मालूम हो कि औराय पंचायत के मतदान केंद्र संख्या 38 व 39 मुस्लिम बाहुल मतदान केंद्र है। वहां मतदान की गति धीमी रहने से मतदाता काफी उधम मचा रहे थे। इसकी खबर मिलते ही जिला प्रशासनिक की टीम वहां पहुंच गई। जिला प्रशासनिक टीम में शामिल जिला पदाधिकारी श्याम बिहारी मीणा, एसपी योगेंद्र कुमार, सदर डीएसपी एके चौबे, एडीएम सहित अन्य पदाधिकारी पुलिस बलों की मदद से वहां मतदाताओं के द्वारा मचाए जा रहे अफरा-तफरी के माहौल को शांत करने के उद्देश्य से महिला व पुरूष मतदाताओं की कतार लगाने की प्रक्रिया शुरू की। इसी दौरान वहां मतदान कार्य में विघ्न डालने वाले तीन-चार युवकों को पुलिस गाड़ी में बैठा दिया। इसी बात को लेकर कतार में लगे पुरूष मतदाता कतार से बाहर होकर मतदान केंद्र परिसर से बाहर निकल गए और हुजूम बनाकर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। बाद में स्थिति को अनियंत्रित देख जिला प्रशासन की टीम में शामिल सभी पदाधिकारी एलर्ट मोड में आ गए। तत्पश्चात पदाधिकारी की टीम आक्रोशित मतदाताओं को घंटों मशक्कत कर उसे शांत कर मतदान करने की अपील की। तत्पश्चात निवर्तमान मुखिया व उसके स्वजनों के पहल पर काफी प्रयास के बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ और मतदान की प्रक्रिया पुन: बहाल की गई।

Edited By: Jagran