संवाद सूत्र, कोचाधामन (किशनगंज)। सीमांचल अधिकार यात्रा के क्रम में एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह सांसद बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी शनिवार की शाम कोचाधामन प्रखंड के भट्टा हाट कोचाधामन पहुंचे।

इस दौरान यहां आयोजित सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने सीमांचल की बदहाली पर फोकस करते हुए कहा कि सीमांचल की विकास की लड़ाई मैं लड़ूगा।

सीमांचल आज हर क्षेत्र में बदहाल है, वर्षों से यहां कई पुल पुलिया अधूरा पड़ा है। महागठबंधन की सरकार आंख मूंद लिए हुए हैं। सीमांचल के साथ शुरू से ही बेइमानी हो रही है।

उन्होंने एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष सह विधायक अख्तरुल इमान की प्रशंसा करते हुए कहा कि अख्तरुल इमान ही एक ऐसा नेता हैं, जो हक के लिए आवाज उठा रहे हैं।

सीमांचल की बदहाली की आवाज उठा रहे हैं। एआईएमआईएम छोड़कर राजद में शामिल होने वाले चारों विधायकों को गद्दार मीर जाफर और मीर सादिक करार देते हुए कहा कि आपने सीमांचल के लोगों के साथ छल किया है, आने वाले चुनाव में जनता तुम्हें धूम चटाएगी।

उन्होंने कहा कि हमारी लड़ाई सीमांचल की तरक्की की लड़ाई है। जब तक सीमांचल का पूर्ण विकास नहीं हो जाता तब तक हमारी लड़ाई जारी रहेगी।

सीमांचल सड़क, पुल-पुलिया, शिक्षा, स्वास्थ्य, नदी कटाव, बेरोजगारी जैसी कई समस्याएं यहां मुंह बाएं खड़ी हैं। लेकिन आजादी के सत्तर साल बाद भी किसी सरकार ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया।

उन्होंने एआईएमआईएम छोड़कर राजद में शामिल हुए चारों विधायकों पर चुटकी लेते हुए कहा कि सभी विधायक अब इज्जत की जिंदगी छोड़कर लालू परिवार के तलवे चाट रहे हैं।

उन्होंने कहा कि एआईएमआईएम कल भी सीमांचलवासी के साथ था और आज भी है। ओवैसी यहीं नहीं रुके उन्होंने अपने संबोधन में नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जी कह रहे हैं कि देश सुरक्षित हाथों में है लेकिन चीन हमारी जमीन पर कब्जा जमाए हुए हैं और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चुपचाप हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पलटूराम करार देते हुए कहा कि महागठबंधन के नाम पर नीतीश और लालू ने भी सीमांचल से सिर्फ वोट लेने का काम किया है।

इसकी बदहाली पर कोई अलग से पैकेज नहीं दिया। इस अवसर पर एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष सह अमौर विधायक अख्तरुल इमान ने कहा कि सीमांचल की बदहाली पर कहा कि सभी सरकारों ने हमारे साथ नाइंसाफी की है।

सीमांचल की तरक्की के लिए मैं संघर्षरत हूं। इसके लिए मुझे चाहे कितना भी दुःख क्यों न झेलना पड़े। सभा की अध्यक्षता एआईएमआईएम के वरीय नेता सह पूर्व मुखिया जफर असलम ने की।

इस मौके पर पूर्व प्रमुख प्रतिनिधि अशफाक आलम, पूर्व मुखिया मंसूर आलम, मुखिया प्रतिनिधि सज्जाद कैसर, पूर्व पैक्स अध्यक्ष सोयब आलम, तनवीर आलम, मासूम रजा, नजर इमाम, नैय्यर आलम समेत बड़ी संख्या में एआईएमआईएम कार्यकर्ता एवं ग्रामीण मौजूद थे।

Edited By: Yogesh Sahu