खगड़िया। मुंगेर के प्रमंडलीय आयुक्त पंकज पाल ने बुधवार को बाढ़ग्रस्त क्षेत्र का सघन दौरा किया। इस दौरान अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए। खगड़िया के डीएम अनिरुद्ध कुमार, डीडीसी रामनिरंजन ¨सह, गोगरी एसडीओ सुभाषचंद्र मंडल भी दौरे के क्रम में आयुक्त के साथ थे। आयुक्त ने मोटरबोट सेअगुवानी, लगार पंचायत के इंगलिश लगार, तेमथा करारी पंचायत के तांती टोला, तेमथा, अरगल्ला टोला का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों से बाढ़ पीड़ितों की स्थिति, बाढ़ के दौरान उनके रहने का ठिकाना आदि की जानकारी ली। बाढ़ से घिरी आबादी को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने को ले नाव की व्यवस्था को लेकर भी अधिकारियों को निर्देश दिए।

आयुक्त ने मौजूद अधिकारियों से कहा कि जांच कर जहां भी प्लास्टिक शीट, हैलोजन टेबलेट और नाव की जरूरत है, वह मुहैया कराई जाए। इस मौके पर परबत्ता बीडीओ रविशंकर कुमार, सीओ चन्द्रशेखर ¨सह आदि भी मौजूद थे।

आयुक्त के आगमन की सूचना पर प्रखंड के कुल्हड़िया तथा भरसो पंचायत स्थित सलारपुर गांव के बाढ़ पीड़ित सड़क के किनारे उनसे मिलने का इंतजार करते दिखे, परंतु वे नदी मार्ग से ही मोटरबोट के सहारे आगे निकल गए। मालूम हो कि परबत्ता प्रखंड के तटबंध और बांध के भीतर का एक बड़ा इलाका बाढ़ग्रस्त है। कई गांव-टोलेगंगा की बाढ़ के पानी से घिर गया है। गंगा के जलस्तर में वृद्धि जारी है। जिससे स्थिति दिनोंदिन नारकीय होती जा रही है। परबत्ता के सीओ ने कहा कि बाढ़ से आधा दर्जन गांव प्रभावित हैं। तीन सौ घरों में पानी घुस गया है।

Posted By: Jagran