खगड़िया। आइसीडीएस की ओर से इन दिनों सुपोषण माह चलाया जा रहा है। कुपोषण दूर करने को लेकर तरह-तरह के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। लेकिन, क्षेत्र में अभी भी आंगनबाड़ी केंद्रों के संचालन को लेकर सवाल उठते रहते हैं। कभी आंगनबाड़ी केंद्र के सि¨फ्टग के सवाल पर, तो कभी पोषाहार वितरण को लेकर विवाद होते रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यहां मकान किराया के नाम पर भी अनियमितता बरती जा रही है। जानकारी अनुसार देवरी पंचायत की वार्ड नंबर-छह में वर्ष 2010 में ही आंगनबाड़ी केंद्र का भवन बनकर तैयार हुआ। उस समय से अभी तक तीन सीडीपीओ आए और गए। परंतु, उक्त सरकारी भवन में आज तक आंगनबाड़ी केंद्र को सिफ्ट नहीं किया गया। मालूम हो कि उक्त भवन में वर्ष 2016 में पंचायत चुनाव को लेकर मतदान केंद्र संख्या-33 बनाया गया था। यहां के नारायण शर्मा, पारो साह, बोढ़न शर्मा आदि ने इस ओर परबत्ता सीडीपीओ का ध्यान आकृष्ट कराया है।

कोट

' मामले की जांच की जाएगी। जब भवन तैयार है, तो आखिर क्यों नहीं उसमें केंद्र को सिफ्ट किया गया। जांच में जो भी दोषी पाए जाएंगे उनपर कार्रवाई होगी। '

नीना ¨सह, सीडीपीओ, परबत्ता।

=== ===

Posted By: Jagran