कटिहार। लॉकडाउन के दौरान विद्यालय बंद है, लेकिन इस अवधि के लिए बच्चों को मिलने वाली एमडीएम योजना का संचालन जारी रहेगा। एमडीएम के बदले बच्चों को चावल व अन्य सुविधा के लिए राशि बच्चों के बैंक खाता में डीबीटी के माध्यम से भेजी जाएगी।

जानकारी के अनुसार, तत्काल 80 दिनों के लिए एमडीएम के बदले चावल का वितरण किया जाएगा। इसके तहत प्रारंभिक विद्यालयों के अंतर्गत कक्षा एक से पांच तक के बच्चों को आठ जबकि छह से आठ कक्षा के बच्चों के लिए 12 किलोग्राम चावल का वितरण किया जाना है।

इसके लिए पूर्व से आवंटित चावल का वितरण किया जा रहा है। जबकि पूर्ण वितरण में 38 हजार क्विटल चावल की आवश्यकता होगी, जिसका आवंटन हो चुका है। शीघ्र ही विद्यालयों को चावल मुहैया करा दिया जाएगा। ताकि बच्चों के बीच इसका वितरण सुनिश्चित हो सके।

2011 विद्यालयों में होता है एमडीएम का क्रियान्वयन :

जानकारी के अनुसार जिले के 2011 प्रारंभिक विद्यालयों में एमडीएम का संचालन होता है। जिले के प्रारंभिक विद्यालयों में कुल 602899 बच्चे नामांकित हैं। लॉकडाउन के कारण बच्चों की पढ़ाई बाधित है, लेकिन सरकारी स्तर पर उन्हें एमडीएम की सुविधा मुहैया कराई जा रही है। चावल का वितरण विद्यालयों के माध्यम से किया जाना है, जबकि अन्य मद की राशि डीबीटी के माध्यम से सीधे उनके बैंक खाता में भेजी जाएगी।

शहरी क्षेत्र में बकरीद के बाद होगा वितरण :

विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिन विद्यालयों में पूर्व से चावल उपलब्ध था वहां वितरण किया गया है, जबकि शेष बचे बच्चों के लिए चावल उपलब्ध कराया जाएगा, जिसका वितरण प्रधानाध्यापक की उपस्थिति में किया जाना है। जबकि शहरी क्षेत्र के विद्यालयों में बकरीद के बाद वितरण शुरू किया जाएगा। वहीं बाढ़ से घिरे व प्रभावित विद्यालयों में पानी निकलने के बाद वहां के बच्चों को चावल मुहैया कराया जाएगा। जिला स्तर से इसकी मॉनिटरिग की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस