कटिहार।सांसद सह राकांपा के राष्ट्रीय महासचिव तारिक अनवर ने कहा कि भारतीय मुसलमानों का जिन्ना से कोई वास्ता नहीं है। अलीगढ़ विश्वविद्यालय में मु. अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर बेवजह विवाद खड़ा किया जा रहा है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि वोटों के ध्रुवीकरण के लिए इस मुद्दे को तूल देने की कोशिश की जा रही है। सांसद ने कहा कि अलीगढ़ विश्वविद्यालय के विजीटर राष्ट्रपति का निर्देश ही इसके लिए काफी है। उन्होंने कहा कि भारतीय मुसलमान महात्मा गांधी और मौलाना आजाद को अपना आदर्श मानते हैं। सांसद ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम में भारतीय मुसलमानों ने भी अपनी कुर्बानी दी है। स्वतंत्रता के बाद भी अब्दुल हमीद एवं डा. एपीजे अब्दुल कलाम जैसे राष्ट्रभक्त पर देश नाज करता है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक स्वार्थ के लिए भारतीय मुसलमानों को जिन्ना से जोड़कर दिखाने की कोशिश ¨चताजनक है। सांसद ने कहा कि भारतीय मुसलमानों को राष्ट्रभक्ति का प्रमाण पत्र किसी से लिए जाने की जरूरत नहीं है।

Edited By: Jagran