कटिहार। स्थापना के 30 वर्ष बाद भी 40 हजार की आबादी को सुरक्षा मुहैया कराने वाला ओपी खुद उपेक्षा का शिकार है। इन वर्षों में ओपी के लिए भवन निर्माण भी पूरा नहीं कराया जा सका है। इसके कारण ओपी का संचालन भाड़ा के मकान में किया जा रहा है। इसके कारण लोगों सहित पदस्थापित पदाधिकारियों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बता दें कि वर्ष 1986 में सालमारी ओपी की स्थापना हुई है। ओपी का संचालन निजी भवन में होने के कारण कामकाज प्रभावित होता है। जबकि ओपी तक पहुंचने के लिए सुगम पथ के अभाव में भी लोग परेशान होते हैं।

भवन निर्माण के लिए प्रस्तावित है भूमि :

सालमारी ओपी के लिए सालमारी-बारसोई मुख्य मार्ग पर एक वर्ष पूर्व भूमि का चयन कर प्रस्तावित भूमि का ब्यौरा विभाग को भेजा गया है। लेकिन भवन निर्माण को लेकर कोई पहल प्रारंभ नहीं हो पाई है। बता दें कि स्थानीय लोग भी भवन निर्माण की कई बार मांग कर चुके हैं। पूर्व मुखिया संघ अध्यक्ष अक्षय ¨सह, पूर्व एमएलसी मोहनलाल अग्रवाल, व्यापार मंडल अध्यक्ष शकील अंजुम, आप जिलाध्यक्ष डॉ. एमआर हक, अमित अग्रवाल, ई. शाह फैसल आदि ने जल्द प्रस्तावित भूमि पर ओपी के भवन निर्माण की मांग जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक से की है।

Posted By: Jagran