संवाद सूत्र बलरामपुर (कटिहार)। Bihar Crime : कटिहार के बलरामपुर प्रखंड के वरिष्ठ भाजपा नेता सह पूर्व जिला पार्षद संजीव मिश्रा की बाइक सवार चार अज्ञात अपराधियों ने सोमवार की सुबह उनके घर के समीप गोली मार हत्या कर दी। सिर व सीने के पास गोली लगने से मौके पर ही पूर्व ही जिप सदस्य की मौत हो गई। संजीव मिश्रा पूर्व में भाजपा जिला कार्यसमिति के सदस्य भी रह चुके थे। एक वर्ष पूर्व भी उनपर जानलेवा हमला हुआ था।

WOW! बिहार के भागलपुर की बेटी नाजिया परवीन को मिला फ्लोरेंस नाइटेंगिल अवार्ड, राष्ट्रपति ने किया सम्मानित

बलरामपुर के तेलता में घर के समीप बाइक सवार अपराधियों ने घटना को दिया अंजाम

गोली लगने से गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। बताया जा रहा है कि स्थानीय स्तर पर दो पक्षों के बीच विवाद को सुलझाने में उनकी अहम भूमिका रहती थी। पंचायती में एक पक्ष के नाराज होने के कारण आपसी रंजिश में हत्या की घटना को अंजाम देने की बात प्रथमद्रष्टया सामने आने की बात कही जा रही है। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने तेलता बाजार बंद करा तेलता ओपी भवन में तोड़ फोड़ की। सड़क जाम कर आक्रोशित लोगों ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए प्रदर्शन किया।

आक्रोशित भीड़ ने तेलता ओपी में की तोड़ फोड़, विरोध में तेलता बाजार रहा बंद

मिली जानकारी के मुताबिक संजीव मिश्रा सोमवार की सुबह अपने घर के समीप बैठे थे। इसी दौरान दो बाइक पर सवार चार अपराधियों ने ताबड़तोड़ गोली चला दी। सिर में गोली लगने से मौके पर उनकी मौत हो गई। घटना को अंजाम देकर अपराधी बाइक से फरार हो गए। हत्या की जानकारी होते ही स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए। सैकड़ों लोग सड़क पर उतर गए। तेलता स्थित प्रखंड कार्यालय, बैंक सहित बाजार बंद करा पुलिस के खिलाफ भी विरोध प्रदर्शन किया। सूचना मिलते ही बारसोई एसडीपीओ प्रेमनाथ राम मौके पर पहुंचे। एसडीपीओ को भी भीड़ के आक्रोश का सामना करना पड़ा। शव को तेलता हाई स्कूल मोड़ पर रख पुलिस के खिलाफ आक्रोशित लोगों ने नाराबाजी की।

आक्रोशित लोगों ने तेलता ओपी में की तोड़ फोड़, बाजार बंद

संजीव मिश्रा की बाइक सवार चार अज्ञात अपराधियों ने सोमवार की सुबह उनके घर के समीप ही गोली मार हत्या कर दी। सिर में गोली लगने से मौके पर ही पूर्व जिप सदस्य की मौत हो गयी। घटना के स्पष्ट कारणों का पता नही चल पाया है। घटना से आक्रोशित लोगों ने बाजार बंद करा तेलता ओपी में तोड़ फोड़ कर सड़क जाम कर दिया। पूर्व जिप सदस्य पर करीब एक वर्ष पूर्व भी जानलेवा हमला करते हुए गोलीबारी की गई थी। इस घटना में गम्भीर रूप से घायल भी हुए थे। मो मोबिद सहित 12 अन्य के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई थी। पूर्व जिप सदस्य की पहचान समाजसेवी के रूप में भी थी। स्थानीय मामलों का निपटारा कराने में भी उनकी भूमिका रहती थी। बलरामपुर और कदवा प्रखंड क्षेत्र में भी कम समय में अपनी अलग पहचान बनाई थी। पूर्व जिप सदस्य अविवाहित थे। मां व बहन के साथ रहते थे।

पूर्व डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने संजीव मिश्रा हत्याकांड की निंदा करते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की। पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा कि महागठबंधन सरकार बनते ही राज्य में जंगल राज फिर से कायम हो गया है। उन्होंने हत्याकांड में शामिल अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी और सख्त कार्रवाई की मांग की है।

हत्याकांड के स्पष्ट कारणों का पता नहीं चल पाया है। अब तक की जांच में आपसी रंजिश में हत्या होने की बात सामने आ रही है। पुलिस हर बिंदु को ध्यान में रखकर जांच कर रही है। जल्द ही मामले का उद्भेदन कर लिया जाएगा। अपराधियों की गिरफ्तारी व घटना के उद्भेदन को लेकर पुलिस की विशेष टीम का गठन किया गया है। - जितेंद्र कुमार, पुलिस अधीक्षक, कटिहार

यह भी पढ़ें- West champaran: पुलिस वाले ने पूछा ठहरो कौन है, दूसरी तरफ से हो गई अंधाधुंध फायरिंग

Edited By: Dilip Kumar shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट