जिला मुख्यालय में स्थित समाहरणालय गेट के पास हेलमेट मैन राघवेंद्र कुमार ने बाइक चालकों को हेलमेट देकर उन्हें सड़क सुरक्षा का संदेश दिया। कैमूर जिला की मैट्रिक कक्षा में टॉपर मधुप्रिया ईआर 11 बुक बैंक कार्यक्रम की मुख्य अतिथि रही। वहीं कार्यक्रम का शुभारंभ एसपी दिलनवाज अहमद ने किया। कार्यक्रम के उद्देश्य के बारे में बताते हुए हेलमेट मैन राघवेंद्र कुमार ने बताया कि कैमूर जिले की शिक्षा को बढ़ाने के लिए जो बच्चे प्रथम स्थान लाए हैं वह अपनी किताब अपने समाज में ऐसे बच्चों को दें जो बच्चा किताब खरीदने में असमर्थ है। आज मधुप्रिया जिला टॉपर ने अपनी पुरानी किताब बुक बैंक को दी। उनके इस नेक कार्य से दूसरे बच्चे को किताब मिलेगी और लोगों में समाज में शिक्षा को बढ़ाने के लिए एक दूसरे को मदद की भी भावना बढ़ेगी। बुक बैंक ने मधु प्रिया को उनके क्लास की पढ़ने वाली जरूरत की किताब भी दी। वह मार्केट से ना खरीद का बुक बैंक से लोग किताब ले। बुक बैंक को किताब देने वालों को हेलमेट मैन राघवेंद्र कुमार ने हेलमेट दिया। इस मौके पर लगभग 50 लोगों को हेलमेट दिया गया। वहीं लगभग 250 किताबें भी राघवेंद्र कुमार को मिली। यह हेलमेट उन बच्चों के लिए आगे चलकर एक प्रेरणा का स्रोत मिला। यह बच्चे हेलमेट लेकर अपने पिता को देंगे उनकी सड़क सुरक्षा में जागरूकता के लिए ताकि उनके पिता सुरक्षित रहें। बुक बैंक का संदेश यह भी है, जब बच्चा बड़ा हो जाए पिता उसे हर साल उसके जन्मदिन पर हेलमेट गिफ्ट करें। आज हमारे बिहार में सड़क दुर्घटना मे मृत्यु बहुत गंभीर समस्या बनी हुई है। सरकार के तरफ से बहुत सारी जागरूकता चलाई जा रही है लेकिन फिर भी बच्चे या अभिभावक हेलमेट का प्रयोग नहीं कर रहे हैं। उसका महत्व भी नहीं समझ पा रहे हैं। यह कार्य उनके जीवन पर एक प्रकाश डालने का कार्य कर रहा है जो उनके जीवन की गति में छोटी सी गलती से ब्रेक लग सकती है। इस गति को बनाए रखने के लिए हेलमेट लाइफ का एक हिस्सा बन गया है। आप खुद जागरूक रहें और दूसरों को भी जागरूक करें। इस मौके पर शुभम सिंह धनुषधारी सिंह, धर्मेंद्र सिंह, मनु सिंह, पप्पू लाल उपाध्याय, चंदन आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप