कैमूर। कुदरा प्रखंड के बभनगावां गांव में मिशन स्वच्छ बिहार के तहत जिलाधिकारी ने जन प्रतिनिधियों व ग्रामीणों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाया। जन प्रतिनिधियों से जनता को स्वच्छता अभियान से जोड़ने का आग्रह किया। ज्ञात हो कि स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) अंतर्गत जिले में 16 मार्च से 22 मार्च तक ग्रामीण पेयजल एवं स्वच्छता निश्चय सप्ताह मनाया जा रहा है। इसी के तहत जिलाधिकारी बभनगावां गांव पहुंचे थे। उन्होंने उच्चतम न्यायालय के अधिवक्ता अरूण कुमार तिवारी द्वारा आयोजित फाग महोत्सव कैमूर फाग महोत्सव में उपस्थित मोहनियां के विधायक निरंजन राम, भभुआ के आनंद भूषण पांडेय, चैनपुर के बृज किशोर बिंद, विधान पार्षद संतोष कुमार सिंह एवं काफी संख्या में उपस्थित ग्रामीणों को स्वच्छ बिहार की शपथ दिलायी। लोगों ने शपथ लिया कि आज हम सब मिलकर शपथ लेते हैं कि हम स्वयं स्वच्छ रहेंगे। अपने घर आंगन गांव को स्वच्छ रखेंगे। इधर उधर कचरा नहीं फेकेंगे और न हीं फेकने देंगे। खुले में न तो शौच करेंगे न हीं किसी को करने देंगे। खाने से पहले, शौच के बाद, बच्चों को खाना खिलाने से पहले और बच्चों का मल साफ करने के बाद साबुन से हाथ धोयेंगे। पीने का पानी सुरक्षित स्त्रोत से लायेंगे। इसकी संरक्षा और सुरक्षित व्यवहार करेंगे। हमारी स्वच्छता हमारा दायित्व है। गांव की स्वच्छता भी हमारा दायित्व है। आज से हम इस दायित्व के लिए प्रतिबद्ध है। हम सब मिलकर अपने घर - आंगन- गांव को स्वच्छ बनायेंगे, स्वच्छ बिहार बनायेंगे। उन्होंने कहा कि गांवों के विकास से ही प्रखंड व जिला का विकास होगा। बभनगांवा के लोग संकल्प ले की खुले में शौच नहीं करेंगे। शौचालय बनाने के लिए सरकार राशि उपलब्ध करा रही है। लोग उसका लाभ उठाये। डीएम ने ग्रामीणों को इसके लिए तीन माह का समय दिया। कहा कि खुले में शौच से मुक्ति मिलने के बाद वे पुन: इस गांव में आयेंगे और लोगों को पुरस्कृत करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस