कैमूर। बिजेंद्र बिद हत्याकांड में लाइजनर की भूमिका निभाने वाले उसके दोस्त सोनू चौरसिया को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस हत्याकांड में अब तक दो अपराधियों की पुलिस ने गिरफ्तारी कर ली है।

ज्ञात हो मोहनियां थाना क्षेत्र के सराय ग्राम निवासी बिजेंद्र बिद की 27 मार्च की रात ईंट पत्थर से कूचकर हत्या कर दी गई थी। उसका शव 28 मार्च को भभुआ-मोहनियां मार्ग व अनुमंडल कार्यालय के बीच में बधार के अ‌र्द्ध निर्मित मकान में मिला था। मृतक के मोबाइल की जांच से पुलिस ने हत्या आरोपियों के तक पहुंचने में सफलता पाई।

बिजेंद्र की हत्या के आरोप में तीन अप्रैल की रात पुलिस ने वार्ड संख्या पांच मल्लाह टोली निवासी हरिशंकर निषाद उर्फ चिटू चौधरी को गिरफ्तार किया था। एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि जांच के दौरान पुसौली ग्राम निवासी सोनू चौरसिया का नाम बिजेंद्र बिद हत्याकांड में सामने आया। यह बिजेंद्र बिद का दोस्त था। जो उसे घटना से पहले मोबाइल पर फोन करके बुलाया था। मोबाइल की कॉल डिटेल से इसका खुलासा हुआ। सोनू चौधरी ने हत्याकांड में संलिप्तता उजागर नहीं होने के भय से अपना मोबाइल नंबर बदल दिया था। हत्या से पहले बिजेंद्र बिद व अन्य आरोपियों से सोनू चौरसिया की बात हुई है। सोनू चौरसिया की मोहनियां में मुंडेश्वरी गेट से दक्षिण सड़क से पूरब दुकान है। जहां से कुछ दिन पहले उत्पाद विभाग की टीम ने भारी मात्रा में शराब बरामद किया था। इस हत्याकांड में अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस