कैमूर। जिले में दहेज प्रथा व बाल विवाह को जड़ से समाप्त करने के लिए रविवार को 12 बजे से 12.30 बजे तक बनी मानव श्रृंखला में शामिल लोगों के हाथों से जुड़े हाथ ने यह साबित कर दिया कि बाल विवाह व दहेज मुक्त कैमूर बनाने में लोग साथ देने को तैयार हैं। जिला मुख्यालय भभुआ नगर सहित रामपुर, भगवानपुर, चैनपुर, चांद, अधौरा, दुर्गावती, मोहनियां, कुदरा, रामगढ़, नुआंव आदि प्रखंडों में निर्धारित समय व स्थान पर लगभग छह लाख की संख्या में शामिल होकर बच्चे व बड़े उस ऐतिहासिक समय के गवाह बने जब संपूर्ण प्रदेश में बाल विवाह व दहेज मुक्त बिहार के लिए मानव श्रृंखला बनी हुई थी। जिलाधिकारी राजेश्वर प्रसाद व एसपी हरप्रीत कौर ने जिला मुख्यालय सहित अन्य प्रखंडों में बनने वाली मानव श्रृंखला में शामिल लोगों की सुरक्षा व्यवस्था की कमान भले ही मातहत पदाधिकारियों को सौंपी थी। लेकिन डीएम व एसपी स्वयं भभुआ-मोहनियां पथ पर बनी मानव श्रृंखला में शामिल हुए। जिले में लगभग 312 किमी में विभिन्न प्रमुख मार्गों के किनारे बनी मानव श्रृंखला में शामिल लोगों का उत्साह चरम पर था। जिले में बनी कुल 312 किमी की मानव श्रृंखला की देखभाल के लिए 312 सेक्टर व प्रत्येक 200 मीटर पर एक समन्वयक की टीम तैनात थी। जिले में कुल 1560 समन्वयक मानव श्रृंखला की निगरानी कर रहे थे। जिला नियंत्रण कक्ष के द्वारा सभी रूटों में बनी मानव श्रृंखला की सूचना प्राप्त की जा रही थी। मानव श्रृंखला में लगभग 6 लाख 47 हजार लोग शामिल हुए। मानव श्रृंखला के दौरान एक किलोमीटर में एक सेक्टर का निर्माण किया गया था तथा प्रत्येक 20 किमी पर एक स्वास्थ्य विभाग की सभी रूटों पर 11 एंबुलेंस व 14 मेडिकल की टीम भ्रमण शील रही। कुल मानव श्रृंखला को कंट्रोल करने के लिए 34 जोनल व इसके कंट्रोल के लिए 15 सुपर जोन मजिस्ट्रेट प्रतिनियुक्त थे। श्रृंखला में खड़े लोगों को पेयजल का पैकेट दिया गया। वहीं ग्रामीण बैंक के कर्मियों द्वारा भी मानव श्रृंखला में शामिल लोगों को पानी उपलब्ध कराया गया। कुल मिला कर जिले में मानव श्रृंखला सफल रही।

-----

इंसेट -

शामिल हुए प्रभारी मंत्री निराला

फोटो फाइल 21 बीएचयू 09

जासं भभुआ, कैमूर:

जिले में रविवार को बनाई गई मानव श्रृंखला में परिवहन मंत्री सह जिले के प्रभारी संतोष कुमार निराला भी शामिल हुए। उनके साथ जदयू के जिलाध्यक्ष डॉ. प्रमोद ¨सह, चंद्र प्रकाश आर्य, नप सभापति जैनेंद्र आर्य, भाजपा जिलाध्यक्ष जितेंद्र पांडेय, चंद्रभान ¨सह, बिनू तिवारी, उत्तम चौरसिया, सीता ¨सह, अखिलेश ¨सह सहित काफी संख्या में लोग नगर के एकता चौक पर मानव श्रृंखला बनाए। मानव श्रृंखला में शामिल होकर प्रभारी मंत्री सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने बिहार में दहेज व बाल विवाह को पूरी तरह से समाप्त करने का संकल्प लिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस