जिले में लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 19 मई को मतदान होगा। इसकी तैयारी के क्रम में पीठासीन पदाधिकारी, पी-वन व पी-टू को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसी क्रम में गुरुवार को नगर के टाउन हाईस्कूल के दस कमरों में दो चरणों में पीठासीन पदाधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें नौ कर्मी अनुपस्थित रहे व आठ कर्मी बीच में ही प्रशिक्षण छोड़ कर चले गए। अनुपस्थित नौ कर्मियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। जबकि बीच में प्रशिक्षण छोड़ कर जाने वाले व लेट से आने वाले कुल 12 कमिर्याें से स्पष्टीकरण मांगा गया है। स्पष्टीकरण संतोषजनक नहीं मिलने पर विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी स्वयं प्रशिक्षक की भूमिका में दिखाई पड़े। वे सभी दस कमरों में चल रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होकर ईवीएम मशीन का संचालन, ईवीएम व वीवी पैट मशीन की कनेक्टिग के अलावा विभिन्न प्रपत्रों को भरे जाने की जानकारी कर्मियों को दिए। प्रशिक्षण कार्यशाला में कुल 800 कर्मियों को शामिल होना था। 32 प्रशिक्षकों द्वारा कर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया।

बता दें कि लोकसभा चुनाव को लेकर उक्त प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित की जा रही है। यह प्रशिक्षण कार्यशाला प्रतिदिन आयोजित की जाएगी। प्रशिक्षण कार्यशाला को लेकर टाउन हाईस्कूल में सभी सुविधाओं को उपलब्ध कराया गया है। जिससे प्रशिक्षण में भाग लेने वाले कर्मियों को किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं हो रही है। प्रशिक्षण कार्यशाला का डीएम के अलावा अन्य वरीय पदाधिकारी भी जायजा ले रहे हैं। अनुपस्थित कर्मी : रवि रंजन दुबे, रंजीत कुमार, शेख शमीमुद्दीन, परमेश्वर मिस्त्री, अंजनी कुमार, राकेश कुमार, नंदलाल प्रसाद, अजय कुमार पासवान, कृष्णा कुमार श्रीवास्तव । प्रशिक्षण छोड़ कर जाने वाले कर्मी : पंचरत्न कुमार, संतोष कुमार सिंह, निर्भय कुमार सिंह, कुमार गिरीधर गोपाल, उमेश कुमार सिंह, विजेंद्र कुमार वर्मा, धर्मेंद्र कुमार सिंह, चंद्रकांत चौधरी। विलंब से प्रशिक्षण में आने वाले कर्मी : मो. हैदर साहनी, बबन पांडेय, मो. सज्जाद हुसैन अंसारी, राजेंद्र कुमार श्रीवास्तव।

Posted By: Jagran