जासं, भभुआ: जिला कृषि विकास अभिकरण(आत्मा) की देखरेख में जिले के युवाओं को रोजगार दिला कर स्वावलंबी बनाने की कवायद शुरू की गई है। भारत सरकार के कौशल विकास कार्यक्रम के तहत चयनित युवक-युवतियों को गुणवत्तापूर्ण बीज के उत्पादन का हुनर सीखाया जाएगा। चयनित युवक-युवतियों की काउंस¨लग मंगलवार को कृषि विभाग के सभागार में की गई। इस मौके पर निदेशक आत्मा श्याम बिहारी ¨सह, उप निदेशक परियोजना नवीन कुमार ¨सह के अलावा अन्य लोग काउंस¨लग बोर्ड में शामिल थे। इस संबंध में जानकारी देते हुए निदेशक ने बताया कि जिले के युवाओं को कौशल विकास कार्यक्रम के अंतर्गत गुणवत्तापूर्ण बीज उत्पादन के लिए 30 युवक-युवतियों का चयन किया गया। चयनित युवक एक माह का प्रशिक्षण प्राप्त कर बीज उत्पादन की जानकारी प्राप्त करेंगे। बीज उत्पादन के बारे में प्रशिक्षण के दौरान युवा-युवतियों को विभाग के पदाधिकारी व कृषि वैज्ञानिकों द्वारा वैज्ञानिक तरीके की जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि यह प्रशिक्षण कार्यक्रम पहले आओ पहले पाओ के तहत आयोजित किया जा रहा है। एक बैच में 30 लोगों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण में शामिल होने वाले लोगों को आयु सीमा के निर्धारण के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण कार्यक्रम में 18 वर्ष से 59 आयु वर्ग के लोग ही शामिल होंगे। प्रशिक्षण में शामिल होने वाले लोगों का काउंस¨लग के माध्यम से चयन किया जाएगा। प्रखंड तकनीकी प्रबंधकों द्वारा युवाओं के बीच में प्रचार-प्रसार कर बीज उत्पादन के प्रशिक्षण के लिए युवाओं को प्रेरित किया गया है। यह प्रशिक्षण पूरी तरह से निश्शुल्क और आवासीय होगा। जो जिला मुख्यालय में ही होगा।

Posted By: Jagran