प्रखंड क्षेत्र के ग्राम शेरपुर में स्थित मानिकदह पोखर की खोदाई मुख्यमंत्री जल संचय योजना के तहत कराई जा रही है। लेकिन खोदाई पर ग्रामीण आपत्ति जता रहे हैं। स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा आरोप लगाया जा रहा है कि संवेदक मनमानी कर तालाब के पूर्व के पिड को ही समाप्त कर दिए हैं एवं पूर्व के तालाब की लंबाई चौड़ाई को छोड़कर 20 मीटर अंदर तालाब का नया पिड तैयार किया गया है। जिस कारण तलाब की लंबाई चौड़ाई काफी कम हो गई। मौके पर मौजूद ग्राम पंचायत चैनपुर के मुखिया प्रतिनिधि अख्तर परवेज आलम उर्फ पड्डु मुखिया एवं ग्रामीण राजवंश यादव, रमेश यादव, भोरिक यादव, हरिद्वार यादव आदि लोगों ने बताया कि छह माह पूर्व पोखर की खोदाई के लिए स्टीमेट का बोर्ड लगवाया गया था। जिसमें प्रस्तावित राशि 86 लाख की थी। लेकिन कार्य मानक के अनुरूप नहीं कराया जा रहा है। इस संबंध में संवेदक विमल सिंह ने बताया कि प्राक्कलन के अनुसार तालाब की खोदाई 201 लंबाई व 230 मीटर चौड़ाई में करानी है। तालाब की भूमि गांव की तरफ ज्यादा ढलाउनुमा एवं दूसरी तरफ काफी ऊंचाई पर है। जिस कारण तालाब में कहीं अलग-अलग गहराई में मिट्टी निकालने का कार्य किया जा रहा है। ताकि तालाब को समतल कराया जा सके। तालाब में मिट्टी खोदाई का कार्य प्राक्कलन के अनुरूप किया जा रहा है। इनके द्वारा कराई गई खोदाई की 209 फीट लंबा व 245 फीट चौड़ी हो चुकी है। जोकि प्राक्कलन से भी ज्यादा है इनके द्वारा कहीं भी कोई कार्य प्राक्कलन के विपरीत नहीं किया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस