जमुई। शनिवार को जमुई के कचहरी चौक स्थित स्व. अभय सिंह प्रतिमा स्थल पर निशा कुमारी न्याय मोर्चा द्वारा धरना व आमरण अनशन कार्यक्रम रखा गया। धरना को संबोधित करते हुए संजीव कुमार सिंह ने कहा कि जमुई की बेटी निशा को न्याय दिलाने के लिए शीघ्र एसआइटी का गठन किया जाना चाहिए। क्योंकि इस जघन्य आपराधिक मामले में पुलिस द्वारा ढुलमूल नीति अपनाई जा रही है। उन्होंने जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक से मांग की कि आरोपित को शीघ्र पकड़ा जाए। क्योंकि वे बाहर रहकर पीड़ित परिवार को लगातार केस उठाने की धमकी दे रहे हैं। निशा की मां ममता सिंह ने कहा कि उनके परिवार पर केस उठाने के लिए लगातार दबाव बनाया जा रहा है। क्षत्रिय महासभा के प्रदेश महामंत्री विशाल सिंह तथा विनोद यादव ने कहा कि दुष्कर्म एवं हत्या के इस मामले में पीड़ित परिवार की सुरक्षा पुलिस के लिए प्राथमिकता है ताकि निशा का परिवार सुरक्षित रह सके। उन्होंने पीड़ित परिजन को डालसा के तहत तीन लाख रुपये मुआवजा देने की भी मांग की। इस मौके पर अमित सिंह, प्रशांत सिंह, राजा, गोपाल भारद्वाज, सोनू सिंह, विकास सिंह, बीके सिंह, गौरव सिंह, बृजेश सिंह, अंजू देवी, किरण देवी, वरुण देवी, गुड़िया देवी, आशा देवी सहित बड़ी संख्या में महिलाओं ने भी भाग लिया। बाद में उपस्थित सभी लोगों ने जिला प्रशासन द्वारा किसी प्रकार का संज्ञान नहीं लिए जाने के उपरांत आमरण अनशन पर डटे रहने का निर्णय लिया। विदित हो कि 26 मई को जमुई जिले के झाझा प्रखंड अंतर्गत जामुखरैया गांव में 15 वर्षीय मासूम निशा के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी गई थी जिसके बाद यह मामला तूल पकड़ता दिख रहा है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021