जमुई। सोमवार की रात शरारती तत्वों ने चकाई बाजार के बीचोबीच स्थित लोकनायक जयप्रकाश नारायण की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया। मंगलवार की सुबह जब स्थानीय लोग दिनचर्या के लिए निकले तो प्रतिमा को क्षतिग्रस्त देखा। कुछ ही देर में यह खबर आग की तरह पूरे बाजार में फैल गई। बड़ी संख्या में लोग क्षतिग्रस्त प्रतिमा को देखने के लिए पहुंचने लगे। सूचना पाकर प्रतिमा संरक्षक सह जेपी सेनानी अंगराज राय मौके पर पहुंचकर मामले की जानकारी चकाई पुलिस को दी। अवर निरीक्षक राजेन्द्र पासवान पहुंचकर क्षतिग्रस्त प्रतिमा का मुआयना किया। घटना से जेपी सेनानियों एवं बुद्धिजीवियों में काफी रोष देखा जा रहा है। एक स्वर से सभी ने इस घटना की ¨नदा की। जेपी सेनानी अंगराज राय, केदार चौधरी, चन्द्रकिशोर पांडेय, भाजपा नेता प्रो. प्रदीप कुमार, संतु यादव, सुरेशचंद्र गिरि आदि ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए पुलिस प्रशासन से घटना में शामिल दोषियों को चिन्हित कर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। घटना से आहत ग्रामीणों ने आगे की रणनीति बनाने के लिए 16 फरवरी को एक बैठक जिला परिषद डाकबंगला परिसर में बुलाई है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

By Jagran