जहानाबाद। पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की 34वीं पुण्यतिथि तथा सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर यहां कई जगहों पर समारोह का आयोजन किया गया। जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय में जिलाध्यक्ष हरिनारायण द्विवेदी की अध्यक्षता में आयोजित समारोह में वक्ताओं ने कहा कि इंदिरा जी ने देश की एकता और अखंडता से कभी समझौता नहीं किया। जब-जब देश पर संकट आया तो उन्होंने धैर्य के साथ मुकदमा किया। भारत-पाकिस्तान युद्ध में पाकिस्तान को नाको चने चबा दिया। एक लाख पाकिस्तानी सेना को सरेंडर कराकर आधा पाकिस्तान को कब्जा कर बंगला देश का निर्माण कराया। प्रधानमंत्री के रुप में उन्होंने देश में कई बड़ा काम किया था। इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष प्रो भूषण कुमार ¨सह, पूर्व अध्यक्ष सुरेंद्र प्रसाद शर्मा, प्रो विरेंद्र शर्मा, अवध पासवान, रामजी प्रसाद, कन्हाई शर्मा, अशोक प्रियदर्शी, रामचंद्र ¨सह सोनी, गौरी शंकर यादव, आविद मजीद इराकी, अजीत कुमार यादव,योगेंद्र प्रसाद यादव, अजय कुमार आदि लोग भी मौजूद थे। इधर इग्नू अध्ययन केंद्र तथा चंद्रिका नगर में नौरु में भी इंदिरा जी की पूण्य तिथि पर समारोह का आयोजन किया गया। इस मौके पर कोआर्डिनेटर डॉ संजय कुमार ने कहा कि आधुनिक भारत के निर्माण में इंदिरा गांधी का योगदान अतूलनीय है। डॉ अनिल कुमार ने उनके जीवन के कई प्रसंगों को याद कराया। मौके पर प्रो अलका वर्मा,प्रो उमा झा, प्रो संजीव ¨सह, प्रो किशोर कुणाल आदि लोगों ने भी अपना विचार व्यक्त किया। इधर मां कमला चंद्रिका जी ग्रुप आफ कालेजेज के तत्वावधान में मां कमला चंद्रिका, साईं कॉलेज आफ एडुकेशन, रामचंद्र राम बीएड एवं सिद्धार्थ टीचर्स ट्रे¨नग कॉलेज के साथ ही अन्य तकनीकी शिक्षण संस्थानों में समारोह का आयोजन किया गया। सर्वप्रथम इंदिरा जी की चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी गई। समारोह की अध्यक्षता करते हुए ग्रुप आफ कॉलेजेज के अध्यक्ष शिक्षाविद् प्रो डॉ चंद्रिका प्रसाद ने कहा कि इंदिरा जी लक्ष्मीबाई की

तरह विरंगाना थी। जिस समय देश की प्रधानमंत्री बनी थी उस समय भयंकर आकाल पड़ा था। उन्होंने अपने विराट व्यक्तित्व का परिचय देते हुए किसी को भूखे नहीं मरने दिया। यदि कोई दुसरा प्रधानमंत्री होता तो उन्हें नाको चना चबाना पड़ता। इतना ही नहीं उनके द्वारा बैंकों का राष्ट्रीयकरण कर ऐतिहासिक कार्य किया गया था। बांगलादेशियों को शरणार्थी के रुप में स्वीकार कर उसे पाक से रक्षा का कवच पहनाया। निजी कोल्ड माइंस का राष्ट्रीयकरण किया। आज वे हमलोगों के बीच नहीं हैं लेकिन उनके द्वारा किया गया कार्य देशवासियों को हमेशा याद रखेगा।इस मौके पर डॉ गिरिजा प्रसाद, जिप के पूर्व अध्यक्ष कमला देवी, प्रो डा संजय कुमार, डॉ अजय कुमार,चंद्र प्रकाश, बब्लू शर्मा तथा प्रो जयकांत कुमार आदि लोग भी मौजूद थे। इधर मोदनगंज प्रखंड क्षेत्र के संस्कृत विद्यालय में वैना में इंदिरा गांधी की पूण्य तिथि पर समारोह का आयोजन किया गया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक राकेश कुमार ने उनके व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला। इस मौके पर शराबबंदी तथा ओडीएफ को लेकर नाटक का भी मंचन किया गया। इधर बाजार टाली नेहरू युवा केंद्र युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय के तत्वावधान में ग्रामोदय सेवा विकास वेलफेयर संस्थान कामदेव बिगहा के सहयोग से समारोह का आयोजन किया गया। इसका उद्घाटन प्रखंड प्रमुख सुनिता कुमारी एवं जिला युवा समन्वयक नरेंद्र राय ने दीप प्रज्वलित कर किया। सामाजिक कार्यकर्ता महेंद्र कुमार ¨सह की अध्यक्षता में आयोजित समारोह का संचालन कृषि सलाहकार देवेंद्र कुमार ने किया। मौके पर युवा स्वयंसेवक अमित कुमार, प्रधानाध्यापक सत्येंद्र कुमार आदि लोगों ने सरदार पटेल के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस