जहानाबाद। पूर्व मुख्यमंत्री व हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा सेक्यूलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी सोमवार को प्रखंड क्षेत्र के नेर गांव पहुंचे। वहां पहुंचकर उन्होंने मृतक रामस्वरूप मांझी के परिवार के लोगों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी। अपने समर्थकों के साथ रामस्वरूप मांझी के परिजनों को सांत्वना देते हुए पूर्व सीएम मांझी ने कहा कि इस दुख की घड़ी में हमलोग उनके साथ हैं। उन्होंने कहा कि रामस्वरूप मांझी अत्यंत ही निर्धन परिवार के थे। मजदूरी कर परिवार के लोगों का भरण पोषण करते थे। उनके निधन से उनके परिवार के लोगों पर दुख का पहाड़ टूट गया है। मांझी ने कहा कि उन्हें जैसे ही इस दुखद घटना की जानकारी मिली वे पीड़ित परिवार के लोगों से मिलने यहां पहुंचे। उन्होंने सरकार से पीड़ितों को सरकारी नियमानुसार मुआवजे दिए जाने की मांग की। बताते चलें कि रामस्वरूप मांझी अपने गांव के समीप सड़क किनारे जा रहे थे। तभी रविवार की रात जहानाबाद से गया की ओर जा रहे एक ट्रक ने उन्हें रौंद डाला परिणामस्वरूप घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई। इस मौके पर स्थानीय मुखिया मनीष शर्मा, सरपंच बाबू चंद, ग्रामीण अरूण कुमार, पंकज कुमार, राजाराम मांझी, राजेश कुमार तथा उपेंद्र कुमार आदि लोग भी मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस