जहानाबाद। बिहार लोक सेवा आयोग की परीक्षा मंगलवार को जिले में शांतिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न हो गई। इसे लेकर जिला मुख्यालय में आठ तथा प्रखंडों में छह परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। सभी परीक्षा केंद्रो पर सुरक्षा बल की व्यापक प्रतिनियुक्ति की गई थी। परीक्षार्थियों की पूरी तरह जांच पड़ताल के बाद ही परीक्षा केंद्र के अंदर प्रवेश कराया जा रहा था। किसी भी प्रकार के कागजात तथा अन्य सामग्रियों को केंद्र के अंदर ले जाने की इजाजत नहीं थी। महिला पुलिसकर्मी महिला परीक्षार्थियों की गहन जांच कर रही थी। जिलाधिकारी नवीन कुमार केंद्रो का भ्रमण कर व्यवस्था का जायजा लेते हुए केंद्राधीक्षक को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। जिलाधिकारी के अलावे अनुमंडल पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी समेत अन्य पदाधिकारी भी केंद्र का भ्रमण कर परीक्षा के संचालन का जायजा ले रहे थे। बतातें चलें कि शहर के रामकृष्ण परमहंस विद्यालय, शांतिकुंज पब्लिक स्कूल, सिद्धार्था टीचर ट्रेनिग कॉलेज, मानस विद्यालय, मानस इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल, प्रतिभा पल्लवन पब्लिक स्कूल, बाल विद्या निकेतन, डीएवी, गांधी स्मारक इंटर विद्यालय तथा ब्रिलियंट पब्लिक स्कूल को परीक्षा केंद्र बनाया गया था। इसके अलावे हाजीपुर अवस्थित एएनआर स्कूल, टेहटा इंटरस्तरीय उच्च विद्यालय तथा मखदुमपुर उच्च विद्यालय को भी परीक्षा केंद्र बनाया गया था। इस परीक्षा में 8620 परीक्षार्थी को शामिल होना था। लेकिन 5338 परीक्षार्थी ही परीक्षा में शामिल हो सके। इस तरह 3282 परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे। परीक्षार्थियों को प्रखंड मुख्यालय के परीक्षा केंद्रो तक जाने में किसी प्रकार की असुविधा न हो इसे लेकर आम लोग भी सहयोगी की भूमिका में दिखे। जो भी परीक्षार्थी परीक्षा केंद्रो का पता पूछ रहे थे उन्हें लोगों ने पूरी मन के साथ न सिर्फ केंद्र का पता बताया बल्कि किस गाड़ी से कैसे जाना है इसकी भी जानकारी दे रहे थे। परीक्षा के आयोजन को लेकर सुरक्षा व्यवस्था का पुख्ता इंतजाम किया गया था। परीक्षा केंद्र के आस पास किसी को आने जाने की इजाजत नही थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप